Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

DHFL के शेयर 18% तक टूटे, जानिए क्या है मामला?

प्रकाशित Wed, 22, 2019 पर 11:43  |  स्रोत : Moneycontrol.com

DHFL। देश की सबसे बड़ी हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों में से एक दीवान हाउसिंग फाइनेंस (DHFL) के शेयर बुधवार को 18 फीसदी तक लुढ़क गए। इससे पहले कंपनी ने कहा था कि अब वह और डिपॉजिट स्वीकार नहीं करेगी। संकट से जूझ रही फाइनेंशियल कंपनी ने यह भी कहा कि अगर कोई तय सीमा से पहले प्रीमेच्योर निकासी करना चाहता है तो वह इसकी इजाजत भी नहीं देगी। कंपनी का कहना है कि इस तरह वह अपनी लायबिलिटीज को मैनेज करना चाहती है। हाल ही में कंपनी के डिपॉजिट प्रोग्राम की क्रेडिट रेटिंग रिवीजन की वजह से यह फैसला लिया गया है।


कुछ दिन पहले ही रेटिंग एजेंसी Care Ratings ने DHFL की रेटिंग घटा दी है। इसमें 1.13 लाख करोड़ रुपए के लॉन्ग टर्म बैंक फैसिलिटीज, FD प्रोग्राम, परपेचुअल डेट, सबरऑर्डिनेट डेट और नॉन कंवर्टिबल डिबेंचर (NCD) सहित बॉरोइंग शामिल हैं।


इसमें से 20,000 करोड़ रुपए वाले फिक्स्ड डिपॉजिट प्रोग्राम की रेटिंग A से घटाकर BBB- कर दी गई है। Care रेटिंग के मुताबिक, A का मतलब बहुत कम रिस्क, BBB का मतलब मॉडरेट रिस्क से है।


DHFL में 12 महीने से लेकर 120 महीने तक की अवधि वाले डिपॉजिट पर ब्याज 8.2 फीसदी से 9.25 फीसदी तक है।
कंपनी ने मंगलवार को देर रात जारी किए बयान में कहा कि फिक्स्ड डिपोजिट प्रोग्राम की क्रेडिट रेटिंग में रिवीजन होने से सभी नए डिपोजिट और रिनुअल पर तत्काल रोक लगा दी है। 
कंपनी ने आगे अपने बयान में कहा कि DHFL मे किसी की उधारी बाकी नहीं है। कंपनी हमेशा सबके भुगतान हमेशा समय पर करती है।


पिछले हफ्ते रेटिंग फर्म इकरा ने अपनी क्रेडिट प्रोफाइल में लगातार गिरावट का हवाला देते हुए DHFL को सिक्स लोन पोल के तहत जारी किए गए सार्टिफिकेट को सिक्योरिटीज डाउनग्रेड कर दिया।