Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

इसी महीने आखिरी तक Dish TV का Airtel Digital TV में हो सकता है विलय

देश की बड़ी डीटीएच कंपनी डिश टीवी का इस महीने के आखिरी विलय हो सकता है।
अपडेटेड Aug 07, 2019 पर 13:16  |  स्रोत : Moneycontrol.com

देश की दिग्गज दो बड़ी डीटीएच कंपनियों का इस महीने के आखिरी में विलय होने की संभावना जताई जा रही है। एस्सेल ग्रुप के मालिकाना हक वाली डिश टीवी को जल्द ही भारती एयरटेल खरीद रहा है। इस विलय के बाद एयरटेल डिजिटल टीवी देश की सबसे बड़ी डीटीएच कंपनी का तमगा हासिल कर लेगी। विलय के बाद कंपनी टाटा स्काई और जियो को टक्कर देगी। बता दें कि इसी महीने रिलायंस भी अपनी गीगाफाइबर सर्विस को कमर्शियल तरीके से शुरु करने की तैयारी कर रहा है।


एयरटेल के मालिक सुनील मित्तल ने मार्च महीने में विलय के लिए डिशटीवी से बातचीत शुरु की थी। अब ये बातचीत अपने अंतिम पड़ाव पर पहुंच चुकी है। संभावना जताई जा रही है कि इस महीने के आखिरी तक दोनों कंपनियां विलय की घोषणा कर सकती है।
दरअसल, रिलायंस जियो ने हाल ही में देश की दो सबसे बड़ी केबल टीवी कंपनियां डेन केबल नेटवर्क और हैथवे केबल एंड डाटाकॉम में बडी हिस्सेदारी खरीदी है। ऐसे में मित्तल भी अब डीटीएच में भी जियो को कड़ी टक्कर देने का मूड बना चुके हैं।


पिछले साल मार्च में डिश टीवी ने वीडियोकॉन डीटीएच का विलय किया था। और सुनील मित्तल अपना डीटीएच का कारोबार टाटा स्काई को बेचना चाह रहे थे। लेकिन सुनील मित्तल की टाटा स्काई के साथ बातचीत नहीं बनी।


ट्राई के सितंबर 2018 के डाटा के मुताबिक, डिश टीवी का बाजार में 37 फीसदी हिस्सेदारी है। दूसरे नंबर पर टाटा स्काई 27 फीसदी हिस्सेदारी है। तीसरे नंबर पर एयरटेल डिजिटल टीवी की 24 फीसदी हिस्सेदारी है। ऐसे में अगर यह विलय होता है तो फिर दोनों कंपनियों के पास कुल 3.9 करोड़ ग्राहक हो जाएंगे। इसके बाद कंपनी की बाजार में हिस्सेदारी बढ़कर 61 फीसदी पहुंच जाएगी।