Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

Corona के चलते भविष्य में शुरू होगा वर्क फ्रॉम होम का नया कल्चर: Teamlease

मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में स्टाफ उपलब्ध कराने के प्रति कंपनी का बहुत कम फोकस होता है क्योंकि यह एक असंगठित सेक्टर है
अपडेटेड Mar 20, 2020 पर 11:06  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नो योर कंपनी में आज रडार पर Teamlease है। कंपनी ने I.M.S.I. Staffing में 21.24 प्रतिशत की हिस्सेदारी खरीदी है। कंपनी ने अपनी हिस्सेदारी 93.94 प्रतिशत तक बढ़ा ली है। ये कंपनी स्टाफिंग इंडस्ट्री की लीडर कंपनी है। इसके अलावा यह संगठित बाजार में मानव संसाधन सेवा उपलब्ध कराने वाली भारत की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है। इसके साथ ही कंपनी staffing, payroll processing, recruitment, and training services भी देती है।


TEAMLEASE SERVICES का मार्केट कैप 3300 करोड़ रुपये है। इसमें प्रोमोटरों की 40 प्रतिशत हिस्सेदारी है। कंपनी के शेयर का वर्तमान भाव 1950 रुपये है। इसका 52 हफ्तों का उच्च स्तर 3201 रुपये है जबकि निचला स्तर 1867 रुपये है।


सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2020 की तीसरी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 1 प्रतिशत बढ़कर 25.5 करोड़ रुपये रहा जबकि वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 25.3 करोड़ रुपये रहा था।


सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2020 की तीसरी तिमाही में कंपनी की आय 16 प्रतिशत बढ़कर 1176 करोड़ रुपये रही जबकि वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में कंपनी की आय 1359 करोड़ रुपये रही थी।


सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2020 की तीसरी तिमाही में कंपनी का एबिटडा 10 प्रतिशत बढ़कर 27.1 करोड़ रुपये रहा जबकि वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 24.6 करोड़ रुपये रहा था।


कंपनी के CFO रवि विश्वनाथ ने कंपनी के कारोबार और नतीजों पर सीएनबीसी-आवाज़ से बातचीत करते हुए कहा कि कोरोना के चलते थोड़ी दिक्कत जरूर है परंतु सरकार की तरफ से सारे जरूरी कदम उठाये जा रहे हैं जिससे कि यह समस्या नियंत्रण के बाहर ना हो जाये।


उन्होंने आगे कहा कि मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में स्टाफ उपलब्ध कराने के प्रति कंपनी का बहुत कम फोकस होता है क्योंकि यह एक असंगठित सेक्टर है और कंपनी संगठित सेक्टरों का स्टाफ उपलब्ध कराती है।


उन्होंने कहा कि फिलहाल कोरोना के चलते बाजार में वर्क फ्रॉम होम के लिए कंपनियां स्वेच्छा से मंजूरी दे रही हैं। कोरोना के असर के जाने के बाद भी ये कल्चर जारी रह सकता है। इससे स्टाफिंग इंडस्ट्री में तेजी आने की संभावना है क्योंकि जो लोग अपना फुल टाइम ऑफिस में देकर काम करने की बजाय घर से काम करने के इच्छुक हैं उनके लिए नये अवसर पैदा होंगे।


हेम सिक्योरिटीज की आस्था जैन ने Teamlease पर अपनी राय देते हुए कहा कि बाजार की वर्तमान हालत को देखते हुए इस शेयर में नई खरीदारी नहीं करनी चाहिए लेकिन जिनके पोर्टफोलियो में ये शेयर मौजूद है उन्हें 2250 रुपये के लक्ष्य के लिए होल्ड करना चाहिए।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।