Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

Coronavirus: MakeMyTrip के टॉप अधिकारी अप्रैल 2002 से नहीं लेंगे सैलरी

कंपनी की लीडरशिप ने भी अपनी 50% सैलरी छोड़ दी है, कमजोर कारोबार की वजह से लिया गया फैसला
अपडेटेड Mar 26, 2020 पर 08:55  |  स्रोत : Moneycontrol.com

ऑनलाइन ट्रैवल कंपनी MakeMyTrip के टॉप अफसर दीप कालरा और राजेश मैगांव ने फैसला किया है कि वे अप्रैल 2020 से "ज़ीरो सैलरी" लेंगे। Covid-19 (Coronavirus) के बढ़ते संक्रमण से बिजनेस को हो रहे नुकसान को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। वहीं कंपनी के दूसरे अधिकारी भी अपनी 50 फीसदी सैलरी कम ले जाएंगे।


कंपनी के ग्रुप एग्जिक्यूटिव दीप कालरा और ग्रुप CEO राजेश मैगांव ने फैसला किया है कि वह अप्रैल 2020 से कोई सैलरी नहीं उठाएंगे। कोरोनावायरस का संक्रमण बढ़ने से  MakeMyTrip का बिजनेस बिल्कुल ठप हो गया है क्योंकि कोई बुकिंग नहीं हो रही है।


कालरा और मैगांव ने कर्मचारियों को भेजे एक संदेश में कहा है, "खर्च कम करने के लिए हम लोग अप्रैल 2020 से कोई सैलरी नहीं लेंगे। वहीं हमारी लीडरशिप टीम ने भी अपनी 50 फीसदी सैलरी छोड़ दी है।" MakeMyTrip अपनी ऑपरेटिंग कॉस्ट घटाने के तरीकों पर विचार कर रही है।


कालरा और मैगांव  ने लिखा है, "Covid-19 का संक्रमण तेजी से फैलने के कारण पिछले दो तीन हफ्ते हमारे लिए काफी मुश्किल भरे थे। फिस्कल ईयर 2020 की तीसरी तिमाही में हमारा प्रदर्शन अच्छा था लेकिन वो टिक नहीं पाया। कोरोनावायरस का असर जिन सेक्टर्स पर सबसे ज्यादा पड़ा है उनमें टूरिज्म भी है।"


कोरोनवायरस के संक्रमण को देखते हुए भारत सहित दुनिया भर के देशों ने एयरलाइंस पर बैन लगा दिया है। इसके साथ ही भारत में रेल और बस पर भी रोक लग गई है। संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए देश भर पर लॉकडाउन लगा दिया गया है जिसकी वजह से कोई सैर सपाटे पर नहीं जा रहा है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।