Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

क्या Jet Airways होगा रिवाइव? Etihad और Hinduja Group में फिर बातचीत शुरू

रिपोर्ट है कि एतिहाद एयरवेज और हिंदुजा ग्रुप नीलामी के लिए फिर एक बार बातचीत शुरू कर रहे हैं।
अपडेटेड Jul 22, 2019 पर 12:56  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कर्ज तले दबी प्राइवेट इंडियन एयरलाइन जेट एयरवेज को रिवाइव करने की कोशिशें पिछले दो महीनों से जारी हैं लेकिन बात नहीं बन रही। अब रिपोर्ट है कि एतिहाद एयरवेज और हिंदुजा ग्रुप नीलामी के लिए फिर एक बार बातचीत शुरू कर रहे हैं। ये दोनों ग्रुप पहले भी डील डन करने की कोशिश कर चुके हैं, लेकिन दोनों के बीच कोई डील पक्की नहीं हुई थी।


बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक, अब ये दोनों कंपनियां फिर साथ में आ रही हैं, ताकि जेट एयरवेज की नीलामी का रास्ता निकल सके। दोनों कंपनियां क्रेडिटर्स के पैसे चुकाने के लिए फंडिंग और एयरलाइन को वापस शुरू करने के रास्ते ढूंढ रही हैं।


बता दें कि मई महीने में एतिहाद ने इस संबंध में हिंदुजा ग्रुप से बात की थी। एतिहाद के पास एयरलाइन के 24 प्रतिशत शेयर हैं। हालांकि, दोनों कंपनियों के बीच कोई डील नहीं बन पाई थी। दोनों कंपनियों का प्लान एयरलाइन की बिड के लिए जॉइंट एक्सप्रेशन ऑफ इंट्रस्ट देना था।


29 जून को मनीकंट्रोल में छपी खबर में बताया गया था कि एतिहाद एयरवेज का एक कन्सॉर्शियम और हिंदुजा ग्रुप नीलामी के लिए एक साथ आ रहे हैं। इस रेस में टाटा ग्रुप, कतर एयरवेज, अपोलो ग्लोबल मैनेजमेंट और टीपीजी कैपिटल के तहत कन्सॉर्शियम भी शामिल हैं।


जेट एयरवेज ने कंपनी खरीदने में दिलचस्पी रखने वालों के लिए एक्सप्रेस ऑफ इंट्रस्ट सबमिट करने की 3 अगस्त की आखिरी तारीख रखी है। नीलामी करने वालों को 14 अगस्त तक शॉर्टलिस्ट किया जाएगा।


17 अप्रैल से अनिश्चितकाल के लिए निलंबित चल रही एयरलाइन इन्सॉल्वेंसी की प्रक्रिया से गुजर रही है। नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल 23 जुलाई को कंपनी के केस की सुनवाई करने वाली है।


बता दें कि जेट एयरवेज पर 25,000 करोड़ तक की लायबिलिटीज है। कंपनी के रिजॉल्यूशन प्रोफेशनल आशीष छावछरिया के पास अब तक कंपनी के कर्मचारियो, फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस और ऑपरेशनल क्रेडिटर्स की ओर से 16,643 क्लेम मिल चुके हैं। उन्होंने बैंकरप्सी कोर्ट में 20 सितंबर तक रिजॉल्यूशन प्लान सबमिट करने की डेडलाइन रखी है।