Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

लिक्विडिटी को लेकर थोड़ी दिक्कत: रेप्को होम

प्रकाशित Thu, 11, 2018 पर 14:39  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आज नो योर कंपनी में हमारे रडार पर है रेप्को होम फाइनेंस। दरअसल एसबीआई एनबीएफसी कंपनियों से 45,000 करोड़ रुपये का लोन एसेट खरीदने वाला है। इस साल 15,000 करोड़ रुपये का लोन खरीदने की योजना है। एसबीआई एनबीएफसी से लोन खरीदकर अपना पोर्टफोलियो बढ़ाएगा। लोन खरीदने से एनबीएफसी को लिक्विडी की मदद मिलेगी।


वहीं जून तिमाही में रेप्को होम फाइनेंस का मुनाफा 8.9 फीसदी बढ़कर 60.9 करोड़ रुपये रहा था जबकि ब्याज आय 6.9 फीसदी बढ़कर 118.5 करोड़ रुपये रही। जून तिमाही में रेप्को होम फाइनेंस का लोन बुक 11.8 फीसदी बढ़कर 10,074.5 करोड़ रुपये और होम लोन 13.7 फीसदी बढ़कर 8,236.2 करोड़ रुपये रहा। जून तिमाही में रेप्को होम फाइनेंस का ग्रॉस एनपीए 2.87 फीसदी के मुकाबले 3.96 फीसदी रहा, जबकि नेट एनपीए 1.29 फीसदी के मुकाबले 2.39 फीसदी रहा।


सीएनबीसी-आवाज़ से बातचीत में रेप्को होम फाइनेंस के सीओओ, यशपाल गुप्ता ने कहा कि लिक्विडिटी को लेकर दिक्कत जरूर देखने को मिल रही है। म्युचुअल फंड की ओर से कमर्शियल पेपर रूक गए हैं, लेकिन इससे हमारी कंपनी पर कोई असर नहीं होगा। रेप्को होम फाइनेंस की देनदारी में कमर्शियल पेपर का हिस्सा सिर्फ 450 करोड़ रुपये का है। वहीं एसबीआई के एलान से एनबीएफसी को सहारा जरूर मिलेगा।