Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

तीसरी तिमाही में आंकड़े कमजोर रहे लेकिन अगले क्वार्टर से आय में दिखेगी ग्रोथः GHCL

कंपनी 250 रुपये के भाव पर 60 करोड़ रुपये का बायबैक कर रही है।
अपडेटेड Jan 24, 2020 पर 19:44  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नो योर कंपनी में आज रडार पर GHCL है। इसके नतीजे कमजोर आये हैं। केमिकल बिजनेस एबिट प्रभावित हुआ है। टेक्सटाइल्स सेगमेंट का प्रदर्शन भी कमजोर रहा है। सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2020 की तीसरी तिमाही में कंपनी की आय 840 करोड़ रुपये रही जबकि वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में कंपनी की आय 847 करोड़ रुपये रही थी।


सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2020 की तीसरी तिमाही में कंपनी का एबिटडा 14 प्रतिशत कम होकर 173.5 रुपये रहा जबकि वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में कंपनी का एबिटडा 202 करोड़ रुपये रहा था।


सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2020 की तीसरी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 4 प्रतिशत घटकर 97 करोड़ रुपये रहा जबकि वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 101 करोड़ रुपये रहा था।


Segmental performance की बात करें तो सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2020 की तीसरी तिमाही में कंपनी की इस सेगमेंट में आय 11 प्रतिशत बढ़कर 545.2 करोड़ रुपये रही जबकि वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में कंपनी की आय 490.2 करोड़ रुपये रही थी। वहीं एबिट 32.8 प्रतिशत से घटकर 26 प्रतिशत रहा है।


HOME TEXTILES की बात करें तो सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2020 की तीसरी तिमाही में कंपनी की इस सेगमेंट में आय 17.4 प्रतिशत घटकर 295 करोड़ रुपये रही जबकि वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में कंपनी की आय 357 करोड़ रुपये रही थी। वहीं एबिट 5.4 प्रतिशत से घटकर 4.5 प्रतिशत रहा।


कंपनी के नतीजों और कारोबार पर बात करते हुए कंपनी के MD R S Jalan ने कहा कि आय में ग्रोथ नहीं होने का कारण Soda Ash की कीमतों में डिमांड ग्रोथ नहीं होने और ओवर सप्लाई होना रहा है। Soda Ash के दाम नवंबर में 6 प्रतिशत गिरे हैं लेकिन कारोबार की गति को देखते हुए अगले क्वार्टर में इसमें ग्रोथ बढ़ने की उम्मीद है।


दिसंबर तिमाही में ग्रोथ में दबाव के बाद इस तिमाही में ग्रोथ में सुधार पर फोकस किया गया है। बायबैक पर बोलते हुए जलान ने कहा कि कंपनी 250 रुपये के भाव पर 60 करोड़ रुपये का बायबैक कर रही है। इस कंपनी में प्रोमोटर की 18.52 प्रतिशत होल्डिंग है जबकि सार्वजनिक होल्डिंग 81.48 प्रतिशत है।


निवेश के दृष्टि से हेम सिक्योरिटीज की आस्था जैन ने कहा कि इस कंपनी ने बायबैक का ऑफर दिया है इसलिए थोड़ा इंतजार करना चाहिए और जिनके पास शेयर हैं उन्हें 225 के लक्ष्य के लिए 3 से 4 महीनें की अवधि के लिए होल्ड करना चाहिए।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।