Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

कंपनी का क्षमता विस्तार पर फोकसः JK PAPER

सिंगल यूज प्लास्टिक बैन मुहिम से कंपनी को फायदा मिलेगा।
अपडेटेड Dec 09, 2019 पर 16:36  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नो योर कंपनी में आज रडार पर JK PAPER है। ये शेयर अपने 52 हफ्तों की ऊंचाई से 25 फीसदी गिरा है। सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ मुहिम में तेजी आई है। प्लास्टिक के खिलाफ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने plogging awareness की खास मुहिम को हरी झंडी दिखाई है। एक रिपोर्ट के मुताबिक 2025 तक 80 हजार करोड़ के प्लास्टिक बिजनेस के 25 फीसदी हिस्से पर पेपर इंडस्ट्री का कब्जा होगा यानी सिंगल यूज प्लास्टिक बैन का फायदा इस शेयर को मिलेगा।


दूसरी छमाही में GDP ग्रोथ में सुधार दिख सकता है। GDP में सुधार का फायदा पेपर इंडस्ट्री को भी मिलेगा। पेपर डंपिंग पर सरकार की नजर है। कंपनी क्षमता विस्तार बढ़ाकर 8 लाख मेट्रिक टन करने पर जोर दे रही है। गुजरात में नया प्लांट लगा रहे हैं। कंपनी HIGH-END PACKAGING BOARD सेगमेंट में भी कारोबार कर रही है। SUP बैन के बाद PACKAGING BOARD की मांग बढ़ी है। कंपनी ने पेपर ग्लास और पेपर प्लेट्स बनाना भी शुरू किया है। ई-कॉमर्स, ऑनलाइन रिटेल, ऑर्गनाइज्ड रिटेल में काफी मांग है।


कंपनी के प्रेसिडेंट और डायरेक्टर A S Mehta ने सीएनबीसी-आवाज़ से बातचीत करते हुए कहा कि सिंगल यूज प्लास्टिक बैन मुहिम से कंपनी को फायदा मिलेगा। पेपर कप और स्ट्रॉ की डिमांड भी बढ़ी है। शिरपुर इकाई अगले महीने से चालू हो जायेगा। अगर हम शिरपुर प्लांट को अलग रखें तो इस समय जेके पेपर की क्षमता 4 लाख 55 हजार मेट्रिक टन है। शिरपुर और गुजरात की इकाई की क्षमता को मिलाने पर कंपनी की कुल क्षमता 8 लाख मेट्रिक टन हो जायेगी।


उन्होंने आगे कहा कि विदेशों से होनेवाले डंपिंग पर सरकार को उचित और असरकारक कदम उठाना होगा। अगर सरकार प्लास्टिक को बैन करती है तो सन 2025 तक पेपर इंडस्ट्री का दबदबा हो जायेगा।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।