Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

आगे भी मार्केट शेयर बरकरार रखने के साथ कंपनी की ग्रोथ पर होगा फोकसः CARE Ratings

मेहुल पंड्या ने कहा कि कंपनी के नतीजें कमजोर रहने का कारण इकोनॉमी में सुस्ती है।
अपडेटेड Feb 27, 2020 पर 19:17  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नो योर कंपनी में आज रडार CARE Ratings है। कंपनी ने फॉरेंसिक ऑडिट रिपोर्ट को मानते हुए राजेश को मोकाशी को कंपनी के MD & CEO पद से 16 जुलाई 2019 से बर्खास्त करने का फैसला किया है। इसके साथ ही CARE Ratings के नये MD & CEO की नियुक्ति करने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है।


सालाना आधार पर तीसरी तिमाही में कंपनी की आय 81.7 करोड़ रुपये से 22 प्रतिशत घटकर 63.25 करोड़ रुपये हो गई है। सालाना आधार पर तीसरी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 30.7 करोड़ रुपये से 43 प्रतिशत घटकर 17.6 करोड़ रुपये हो गई है।


कंपनी के शेयर का वर्तमान भाव 526 रुपये है। इसका 52 हफ्तों का उच्च स्तर 1019 रुपये और निचला स्तर 444 रुपये है। कंपनी का मार्केट कैप 1550 करोड़ रुपये है। अपने साल के उच्च स्तर 1019 से यह शेयर 50 प्रतिशत नीचे कारोबार कर रहा है।


कंपनी के बारे में सीएनबीसी आवाज़ से बात करते हुए कंपनी के Executive Director मेहुल पंड्या ने कहा कि कंपनी के नतीजें कमजोर रहने का कारण इकोनॉमी में सुस्ती है। इकोनॉमी में कमजोरी के कारण कंपनी के नतीजे प्रभावित हुए हैं। वहीं क्रेडिट ग्रोथ में कमी का असर भी नतीजों पर पड़ा है। उन्होंने आगे कहा कि इकोनॉमी में सुस्ती के बावजदू कंपनी ने मार्केट शेयर काफी हद तक बरकरार रखा है। दिग्गज एक्सपर्ट समीर कालरा ने केयर रेटिंग्स पर 650 रुपये के लक्ष्य के लिए खरीदारी की राय दी है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।