Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

अडानी की कंपनियों में निवेश करने वाले FPI का अकाउंट ब्लॉक नहीं हुआ है: NSDL

NSDL के एक टॉप अधिकारी ने बताया कि अडानी ग्रुप की कंपनियों में निवेश करने वाले FPI का अकाउंट फ्रीज नहीं किया गया है
अपडेटेड Jun 15, 2021 पर 09:59  |  स्रोत : Moneycontrol.com

सोमवार सुबह पहले खबर आई कि नेशनल सिक्योरिटीज डिपॉजिटरी लिमिटेड (NSDL) ने अडानी ग्रुप की कंपनियों में निवेश करने वाले फॉरेन फंड्स (FPI) का अकाउंट ब्लॉक कर दिया है। हालांकि सोमवार रात इससे एकदम उलट खबर आई। NSDL के एक टॉप अधिकारी ने बताया कि अडानी ग्रुप की कंपनियों में निवेश करने वाले FPI का अकाउंट फ्रीज नहीं किया गया है।

सोमवार सुबह FPI के अकाउंट्स ब्लॉक करने की खबर आई थी अडानी ग्रुप की कंपनियों के शेयरों में कोहराम मच गया। ग्रुप की हर कंपनी के शेयरों में चौतरफा बिकवाली देखी गई।

अडानी ग्रुप में बड़ा इनवेस्टमेंट रखने वाले 3 FPI पर NSDL की सख्ती, मॉरीशस में है रजिस्ट्रेशन

NSDL के वाइस प्रेसिडेंट राकेश मेहता ने अडानी ग्रुप के अधिकारियों को बताया, "आपके ईमेल में जिन डीमैट अकाउंट्स का जिक्र किया गया है वो NSDL के सिस्टम में एक्टिव नजर आ रहा है।"

मेहता खासतौर पर अलबुला इनवेस्टमेंट फंड (Albula Investment fund), क्रेस्टा फंड (Cresta Fund) और APMS इनवेस्टमेंट फंड के बारे में बात कर रहे हैं। इन तीनों कंपनियों के पास कुल मिलाकर अडानी एंटरप्राइजेज, अडानी ग्रीन एनर्जी, अडानी ट्रांसमिशन और अडानी टोटल गैस में करीब 43,500 करोड़ रुपए के शेयर हैं।

Gautam Adani से छिन सकता है एशिया के दूसरे सबसे धनी व्यक्ति का ताज, 1 घंटे में ही गंवाये 73,000 करोड़ रुपये

Moneycontrol ने भी Adani Group के अधिकारियों और NSDL के बीच हुए ई-मेल को देखा है। हालांकि, NSDL की वेबसाइट पर अभी भी दिख रहा है कि इन तीनों FPIs के अकाउंट फ्रीज हैं। लेकिन NSDL के अधिकारियों ने कहा कि इन तीनों फॉरेन फंड्स पर पुराने मामले में दंडात्मक कार्रवाई की गई थी, अभी NSDL ने कोई एक्शन नहीं लिया है।

मार्केट एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर रेगुलेटर किसी कंपनी के किसी खास अकाउंट को फ्रीज करता है तो इसका यह मतलब नहीं है कि स्टॉक एक्सचेंज में उसकी सभी ट्रेडिंग और डीलिंग्स फ्रीज हो गई है या सस्पेंड कर दी गई है। 3 FPIs के अकाउंट फ्रीज होने की खबर से आज Adani Group की कंपनियों के शेयर में भारी गिरावट आई।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।