Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

5G स्पेक्ट्रम की नीलामी शुरु की जाए: टेक महिंद्रा

प्रकाशित Tue, 21, 2019 पर 17:24  |  स्रोत : Moneycontrol.com

2G, 3G, और फिर 4G ने भारत में ऐसा धमाल मचाया कि रिलायंस जियो ने तो 2G, 3G क्या होता है, ये भुलाने के लिए मजबूर कर दिया। अब भारतीय ग्राहक अगर 5G का इंतजार कर रहे हैं, तो शायद ये इंतजार भी खतम हो जाएगा।



दरअसल भारतीय कारोबारियों ने सरकार से 5G के बारे में नीतियां बनाने की मांग शुर कर दी है। आईटी सेक्टर की कंपनी टेक महिंद्रा ने 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी मांग शुरु कर दी है।  टेक महिंद्रा के नेटवर्क सेवाओं के सीईओ मनीष व्यास ने कहा कि अभी देश के सभी 4G सेवा नहीं है। हालांकि यह काम बड़े पैमाने पर हुआ है। वहीं दूसरी ओर 5जी परीक्षणों के लिए निश्चित रूप से कुछ हलचल दिख रही है।



व्यास का मानना है कि 5G स्पेक्ट्रम में अभी किसी तरन के नियम कानून न होना बड़ी अड़चन है। उन्होंने कहा कि दूरसंचार विभाग ने टेस्ट के रूप में जो लाइसेंस दिए हैं उनमें सुधार की जरूरत है। जब तक कि ऐसा नहीं होता है, इंडस्ट्री को इंतजार करना होगा।


व्यास का कहना है कि, अमेरिका, आस्ट्रेलिया, इटली, स्विट्जरलैंड, सऊदी अरब और कुछ अन्य देशों ने 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी शुरू कर दी है। ग्लोबल स्तर पर नियामक 5जी के लिए के लिए मध्यम बैंक (3.5 गीगाहर्ट्ज) लाइसेंस दे रहे हैं। वहीं कुछ अन्य देशों में एमएमवेव स्पेक्ट्रम बैंड में लाइसेंस दिया जा रहा है।



व्यास ने खासतौर से कहा कि, भारत में 5जी नेटवर्क शुरू करने के लिए सबसे पहले 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी जरूरी है। सब कुछ स्पेक्ट्रम पर ही निर्भर करेगा।


 आपको बता दें कि, देश की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी वोडाफोन आइडिया ने हाल में कहा था कि 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी 2020 से पहले से नहीं की जानी चाहिए, क्योंकि इंडस्ट्री को अगली पीढ़ी की तकनीकी के लिए भारत के अनुरूप करने की जरूरत है।