Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

Air India को बेचने के लिए अगले महीने लग सकती है बोली

एयरलाइन तकरीबन 58,000 करोड़ रुपये के कर्ज के बोझ तले दबी हुई है।
अपडेटेड Oct 21, 2019 पर 15:21  |  स्रोत : Moneycontrol.com

सरकार Air India में 100 फीसदी हिस्सेदारी बेचने के लिए अगले महीने बोली मंगाने की तैयारी कर रही है। एयरलाइन पर तकरीबन 58,000 करोड़ रुपये का कर्ज है, इसके अलावा कंपनी हजारों करोड़ के घाटे में चल रही है।


सूत्रों से मिली जानकारी के मतुबाकि, एयरलाइन को खरीदने के लिए कुछ कंपनियों ने अपना इंट्रेस्ट दिखाया है। लिहाजा सरकार Expression of Interest (EoI) को अंतिम रूप देने की तैयारी कर रही है। उन्होंने आगे कहा कि इस बार 100 फीसदी हिस्सेदारी बेचने के लिए EoI मंगाने की तैयारी की जा रही है। जो कि इस महीने के अंत में या अगले महीने बोलियां मंगाई जा सकती हैं। ये बोलियां हाल ही में बनाए गए ई-बिडिंग के जरिए मंगाई जाएंगी।


पिछले हफ्ते सिविल एविएशन सेक्रेटेरी प्रदीप सिंह खरोला ने एयरलाइन की बोर्ड मीटिंग से पहले Air India की समीक्षा की थी। 22 अक्टूबर को निदेशक मंडल की मीटिंग है।   बोर्ड मीटिंग में मार्च 2019 को समाप्त हुए फिस्कल ईयर के लिए Air India के Consolidated Account की मंजूरी दी जाएगी। हालांकि इसी महीने के शुरुआत में Air India मैनेजमेंट ने घाटे में चल रहे एयरलाइन के प्रस्तावित प्राइवेटाइजेशन पर अपने ट्रेड यूनियनों के साथ बैठक की। एयरलाइन के कर्मचारी संगठन इस प्रक्रिया का विरोध कर रहे हैं। उन्हे डर सता रहा है कि इस प्लान से नौकरी जाने का खतरा बढ़ सकता है।


फिलहाल Air India अपनी बैलेंस सीट सुधारने के लिए तकरीबन 30,000 करोड़ रुपये के कर्ज बॉन्ड जारी किए जाने हैं। ये बॉन्ड Air India Asset Holding Ltd (AIAHL) की ओर से जारी किए जा सकते हैं।   


बता दें कि AIAHL अब तक 21,985 करोड़ रुपये के बॉन्ड जुटा चुकी है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।