Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

हैवेल्स इंडिया के शेयरों में क्यों आई इतनी बड़ी गिरावट, 52 हफ्ते के लो पर पहुंचा शेयर

इलेक्ट्रिक कंज्यूमर ड्यूरेबल्स को छोड़कर सभी दूसरे सेगमेंट की आमदनी दिसंबर तिमाही में घटी है
अपडेटेड Jan 22, 2020 पर 15:45  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Havells India। इलेक्ट्रिक इक्विपमेंट बनाने वाली कंपनी हैवेल्स इंडिया के शेयर बुधवार सुबह 5 फीसदी तक गिर गए। इसी के साथ NSE पर हैवेल्स इंडिया (Havells India) के शेयर गिरकर 52 हफ्ते के निचले स्तर पर आ गए।


ऐसा लग रहा हैकि कंपनी की दिसंबर तिमाही के नतीजों से निवेशकों में निराशा है। हैवेल्स इंडिया के नतीजे मंगलवार को बाजार बंद होने के बाद आए। कंपनी की आमदनी दिसंबर तिमाही में पिछले साल की इसी तिमाही के मुकाबले 10 फीसदी घटकर 2270 करोड़ रुपए पर आ गई। 


लाइव मिंट के मुताबिक, एलारा सिक्योरिटीज के एनालिस्ट हर्षित कपाड़िया ने कहा, "11 फीसदी की गिरावट बाजार के अनुमान से कम है।" कंपनी ने नतीजे जारी करते हुए कहा, "मैक्रो इकोनॉमी में गिरावट, सेक्टर में नकदी संकट, इंफ्रास्ट्रक्चर सेगमेंट में स्लोडाउन, इंडस्ट्रियल केबल, प्रोफेशनल और इंडस्ट्रियल स्विचगियर की डिमांड घटने से नतीजे कमजोर रहे।"


कंपनी ने कहा, "कंज्यूमर सेंटीमेंट कमजोर हुआ है। जबकि हमने कंज्यूमर कैटेगरी में अपनी ग्रोथ बरकरार रखी है।"


सेगमेंट पर आधारित रेवेन्यू की बात करें तो इलेक्ट्रिक कंज्यूमर ड्यूरेबल्स (ECD) को छोड़कर सभी दूसरे सेगमेंट की आमदनी दिसंबर तिमाही में घटी है। लेकिन मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल के एनालिस्ट्स का मानना है कि ECD की ग्रोथ उतनी शानदार नहीं रही है। जबकि वाटर हीटर की बिक्री से ग्रोथ को सपोर्ट मिलना चाहिए।


हैवेल्स की कुल आमदनी में ECD की ग्रोथ करीब 26 फीसदी है। हालांकि लॉयड कंज्यूमर का बिजनेस इस दौरान बेहद कमजोर रहा। दिसंबर तिमाही में लॉयड कंज्यूमर की आमदनी 16 फीसदी गिर गई। LED टीवी बिजनेस कमजोर रहने से कंपनी की आमदनी घटी है।


कंपनी का सबसे बड़ा सेगमेंट केबल है। कंपनी की कुल आमदनी में इसकी 31 फीसदी हिस्सेदारी है। केबल सेगमेंट से होने वाली कंपनी की आमदनी 13 फीसदी तक घट गई है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।