Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

HPCL ने ONGC को एक बार फिर प्रमोटर मानने से किया इनकार

HCPL ने पिछले डेढ़ साल से अपनी मेजॉरिटी शेयर होल्डर ONGC को प्रमोटर मानने से एक बार फिर इनकार कर दिया है।
अपडेटेड Jul 23, 2019 पर 10:10  |  स्रोत : Moneycontrol.com

हिंदुस्तान पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) ने पिछल डेढ़ साल से अपनी मेजॉरिटी शेयर होल्डर तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम (ओएनजीसी) को प्रमोटर मानने से एक बार फिर इनकार कर दिया है। ओएनजीसी ने पिछले साल जनवरी में एचपीसीएल में सरकार की समूची 51.11 फीसदी हिस्सेदारी 36,915 करोड़ रुपये में खरीदी थी। एचपीसीएल उसके बाद ओएनजीसी की सब्सिडायरी बन गई थी।


हालांकि, एचपीसीएल का मैनजमेंट लगातार ओएनजीसी को अपने प्रमोटर के तैर पर मान्यता देने से इनकार करता रहा है।


एचपीसीएल ने 21 जुलाई को बीएसई को भेजी सूचना में 30 जून, 2019 को समाप्त तिमाही में शेयरहोल्डिंग की जानकारी दी है। जिसमें ओएनजीसी को एक बार फिर से पब्लिक शेयरहोल्डर बताया गया है। प्रमोटर के तौर पर नहीं दिखाया गया है।


आपको बता दें कि, पिछली पांच तिमाहियों के दौरान बीएसई को दी गई सूचना की तरह इस बार भी एचपीसीएल ने जीरो शेयर होल्डिंग के साथ भारत के राष्ट्रपति को अपना प्रमोटर बताया है। ओएनजीसी के पास कंपनी के 77.88 करोड़ शेयर या 51.11 फीसदी हिस्सेदारी है, लेकिन उसे पब्लिक शेयरहोल्डर के रूप में दिखाया गया है।