Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

स्वदेशी पर ज़ोर: हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स से 83 जेट प्लेन खरीदेगी एयरफोर्स

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत ने कहा है कि इन 83 जेट प्लेन के लिए विदेशी कंपनियों से टेंडर नहीं मंगवाए जाएंगे
अपडेटेड May 16, 2020 पर 12:55  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पीएम नरेंद्र मोदी ने 12 मई को देश के नाम अपने संबोधन में कहा था कि लोकल पर वोकल बनना है। यानी अब आत्मनिर्भर बनते हुए लोकल सामानों का इस्तेमाल बढ़ाना है। सरकार ने इसकी शुरुआत बेहद दिलचस्प ढंग से की है। दरअसल, दो साल पहले भारतीय वायुसेना ने 114 प्लेन के लिए इंटरनेशनल कंपनियों से टेंडर मंगवाए थे। लेकिन अब सरकार ने इन्हें घरेलू बाजार में ही तैयार कराने पर ज़ोर दे रही है। इसके लिए सरकार ने देश में ही बने फाइटर जेट्स पर स्विच करने का प्लान बनाया है।


चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत ने एख इंटरव्यू में बताया कि एयर फोर्स देश में ही बने लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (LCA) यानी हल्के लड़ाकू विमान, तेजस को एयरक्राफ्ट फ्लीट में शामिल करेगी।


रावत ने कहा कि एयरफोर्स शुरुआत के 40 एयरक्राफ्ट के पुराने ऑर्डर के अलावा 83 जेट विमान खरीदेगी। इसका वैल्यू 6 अरब डॉलर होगी।


रावत ने कहा कि एयरफोर्स हल्के लड़ाकू विमान का अब इस्तेमाल करेगी। यह पूछे जाने पर कि जेट के लिए ग्लोबल टेंडर कब जारी किए जाएंगे रावत ने बताया कि विदेशी कंपनियों के बजाय घरेलू कंपनियों को इसका ऑर्डर दिया जाएगा। रावत ने बताया कि ये जेट हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) से खरीदे जाएंगे।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें