Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

ग्रे मार्केट देखें तो IRCTC की तरह मल्टीबैगर साबित हो सकता है SBI कार्ड्स का IPO

ग्रे मार्केट में अनलिस्टेड शेयरों की ट्रेडिंग होती है जहां SBI कार्ड्स के शेयर 40% प्रीमियम पर हैं
अपडेटेड Feb 22, 2020 पर 14:51  |  स्रोत : Moneycontrol.com

मार्केट रेगुलेटर सेबी ने SBI कार्ड्स के IPO को हरी झंडी दे दी है। इसका IPO मार्च में आने वाला है। अगर ग्रे मार्केट (Grey Market) की बात करें तो वहां SBI कार्ड्स के शेयर प्रस्तावित IPO बैंड से 40 फीसदी प्रीमियम पर है।


इकोनॉमिक टाइम्स के मुताबिक, ब्रोकरेज फर्म एडलवाइज सिक्योरिटीज ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि SBI कार्ड्स का इश्यू 2 से 5 मार्च के बीच खुलेगा।


अनलिस्टेड शेयरों में डील करने वाली कंपनी अल्टीमेट वेल्थाउल (Ultimate Wealthowl) के अभिषेक चतुर्वेदी ने कहा, "हम उम्मीद कर रहे हैं कि SBI कार्ड्स का प्राइस बैंड 690-710 रुपए हो सकता है।"


बाजार से जुड़े ज्यादातर लोगों को उम्मीद है कि SBI कार्ड्स के IPO ओवरसब्सक्राइब होंगे। ग्रे मार्केट मे इसके अनलिस्टेड शेयर प्रीमियम पर है जिससे इसके शानदार परफॉर्मेंस का अंदाजा लगाया जा सकता है। उन्होंने कहा, "एकबार असल प्राइस आने के बाद ग्रे मार्केट में प्रीमियम बढ़ सकता है। यह 50 फीसदी से ज्यादा बढ़ सकता है। हालांकि प्राइस बैंड अगर 1000 रुपए के आसपास होता है तो प्रीमियम मौजूदा 40 फीसदी पर ही रहेगा।"


SBI के मौजूदा शेयरधारकों के लिए 10 फीसदी इश्यू रिजर्व कर दिया गया है। अनलिस्टेड जोन के दिनेश गुप्ता ने कहा, "अगर आपके पास पहले से ही SBI के शेयर हैं तो आपको इसका फायदा मिल सकता है। इस कोटा में शेयर मिलने के चांस ज्यादा हैं।"


SBI के शेयरों में पिछले कुछ सेशन से तेजी बनी हुई है। दिसंबर तिमाही के नतीजे आने के बाद SBI के शेयरों में कमजोरी आई थी। पिछले एक साल में SBI के शेयरों  में 22 फीसदी की तेजी आई है। हालांकि इस साल अब तक यह 4 फीसदी गिर चुका है।


गुप्ता ने कहा, "पिछले 4-5 साल से कंपनी की ग्रोथ मजबूत रही है। लॉन्ग टर्म के लिए यह अच्छा दाव है।"


इंडियन क्रेडिट कार्ड बाजार में SBI कार्ड्स दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है। कंपनी की शुरुआत 1998 में हुई थी। यह देश के सबसे बड़े बैंक SBI की सब्सिडियरी कंपनी है। अभिषेक चतुर्वेदी ने कहा, "यह मल्टीबैगर स्टॉक है। अगर आपको यह शेयर मिल जाता है तो इसे हमेशा अपने पास रखें। इससे IRCTC की तरह मुनाफा होगा।"


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।