Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

फर्जी फाइनेंशियल स्टेटमेंट देने पर अमेरिका में इंफोसिस पर मुकदमा

लॉ फर्म शाल ने कंपनी पर आरोप लगाए है कि उसने मार्केट को गलत जानकारियां दी हैं
अपडेटेड Dec 13, 2019 पर 08:35  |  स्रोत : Moneycontrol.com

शेयरहोल्डर के अधिकारों के लिए लड़ने वाली लॉस एंजेल्स की एक कंपनी शाल लॉ फर्म (The Schall Law Firm) ने इंफोसिस के खिलाफ क्लास एक्शन मुकदमा किया है। इस शिकायत के मुताबिक, इंफोसिस ने मार्केट को गलत जानकारियां दी हैं। इसके साथ ही शॉर्ट टर्म प्रॉफिट बढ़ाने के लिए कंपनी ने गलत तरीका अपनाया है।


कंपनी ने यह मुकदमा व्हीसलब्लोअर की शिकायत के करीब एक महीने बाद किया है। कंपनी के CEO सलील पारेख पर एक व्हीसलब्लोअर ने इसी तरह के आरोप लगाए थे। हालांकि, कंपनी ने जांच के बाद कहा कि ऐसे कोई सबूत नहीं मिले हैं।


अमेरिका में हुए इस केस के मुताबिक, सलील पारेख ने अकाउंटिंग स्क्रूटनी से बचने के लिए बड़े डील में स्टैंडर्ड रिव्यू नहीं कराया। लाइव मिंट के मुताबिक, यहां तक कि कंपनी की फाइनेंस टीम पर यह दबाव था कि ऑडिटर्स और कंपनी के बोर्ड से ऐसी जानकारियां छिपाए। 


लॉ फर्म की तरफ दिए बयान के मुताबिक, "इन तथ्यों के आधार पर कंपनी की तरफ से दिए गए सार्वजनिक बयान गुमराह करने वाले थे। बाजार को जब सच्चाई का पता चला तो निवेशकों को नुकसान हुआ।" शाल ने कहा कि इंफोसिस के निवेशकों को करीब 1 लाख डॉलर का लॉस हो चुका है। 


सिक्योरिटी एक्सचेंज 1934 के 10(b) और 20 (a) के उल्लंघन पर इंफोसिस पर मुकदमा किया गया है। कंपनी को 23 दिसंबर 2019 से पहले संपर्क करने को कहा गया है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।