Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

कोरोना वायरस से मौत होने पर इंश्योरेंस कंपनियां नहीं खारिज करेंगी क्लेम

लाइफ इंश्योरेंस काउंसिल ने कहा है कि Covid-19 के मौत के दावों के मामले में फोर्स मेजर नहीं लागू होगा
अपडेटेड Apr 07, 2020 पर 08:26  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोना वायरस के प्रकोप से पूरे देश में मौत का आंकड़ा दिनों दिन बढ़ता जा रहा है। इसके साथ इंश्योरेंस कंपनियों में कई तरह के भ्रम फैले हुए है कि कोरोना वायरस के चलते मौत होने पर क्लेम मिलेगा या नहीं। इस पर इंश्योरेंस काउंसिल ने बयान जारी कर कहा है कि सभी इंश्योरेंस कंपनियों को Covid-19 के चलते हुई मौत के सिलसिले में दावों का निपटान करना होगा। काउंसिल ने अपने बयान में कहा है कि सभी सरकारी और प्राइवेट इंश्योरेंस कंपनियां कोरोना वायरस से संबंधित किसी भी मौत पर क्लेम देना होगा।  काउंसिल ने साफ तौर पर कहा है कि कोरोना वायरस की वजह से मौत के मामले में फोर्स मेजर का प्रावधान लागू नहीं होगा। फोर्स मेजर का मतलब ये होता है कि कोई घटनाएं, जिसे न तो अनुमानित किया जा सकता और न ही नियंत्रित किया जा सकता है। 


सभी लाइफ इंश्योरेंस कंपनियों ने इस संबंध में व्यक्तिगत रूप से अपने ग्राहकों को सूचित किया है।


लाइफ इंश्योरेंस काउंसिल (Life Insurance Council) के महासचिव एस एन भट्टाचार्य ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी पूरी दुनिया में है। इसके बढ़ते प्रकोप से हर घर में जीवन बीमा की जरूरत को बल मिला है। लॉकडाउन के चलते पॉलिसी होल्डर्स को किसी तरह की कठिनाइयों का सामना न करना पड़े। इसके लिए लाइफ इंश्योरेंस इंडस्ट्री कई तरह के उपाय कर रही है। भट्टाचार्य ने कहा कि लोगों को डिजिटल माध्यम के जरिए चाहे कोरोना वायरस के चलते मौत का क्लेम हो या फिर किसी दूसरी वजह। सबके निपटान जल्द से जल्द हों। उन्होंने कहा कि कठिन समय में लाइफ इंश्योरेंस कंपनियां अपने ग्राहकों के साथ हैं। और ग्राहकों को किसी भी तरह की अफवाहों पर ध्यान नहीं देना चाहिए।  


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।