Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

Intel-Jio deal: अमेरिका की बड़ी सेमीकंडक्टर कंपनी Jio प्लेटफार्म में करेगी ₹1,894.5 करोड़ का निवेश

Intel, फेस बुक के बाद Jio प्लेटफार्म में निवेश करने वाली दूसरी स्ट्रेटजिक इनवेस्टर बन गई है।
अपडेटेड Jul 04, 2020 पर 15:43  |  स्रोत : Moneycontrol.com

अमेरिका की बड़ी सेमीकंडक्टर कंपनी Intel Corp 0.39 फीसदी हिस्सेदारी लेने के लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज के  डिजिटल यूनिट  RIL Jio Platforms में 1,894.5 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। Intel फेस बुक के बाद Jio प्लेटफार्म में निवेश करने वाली दूसरी स्ट्रेटजिक इनवेस्टर बन गई है।


रिलायंस इंडस्ट्रीज के इस डिजिटल यूनिट ने अब तक दुनिया के कुछ बड़े टेक इनवेस्टरों से कुल 25.09 फीसदी हिस्सेदारी के एवज में कुल 117,588.45 करोड़ रुपये जुटा लिए हैं। Jio Platforms में ये 11 हफ्ते में 12वां बड़ा निवेश है। ये निवेश 4.91 लाख करोड़ रुपये के Equity Value और  5.16 लाख करोड़ रुपये के Enterprise Value पर किया जा रहा है।


इस डील पर RILके चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा है कि  ग्लोबल टेक कंपनियों के लिए Intel अहम साझेदार है। Intel के साथ साझेदारी का देशवासियों को फायदा होगा। इस साझेदारी से टेक क्षमता के विस्तार में मदद मिलेगी।


वहीं इस डील पर INTEL का कहना है कि सस्ती डिजिटल सेवाओं पर Jio का फोकस है। इस निवेश से भारत की डिजिटल सेवा में बड़ा योगदान मिलेगा। डिजिटल सेवाओं से लोगों की जिंदगी बेहतर होगी।


बता दें कि जियो प्लेटफार्म में हाल ही में निवेश करने वाली ग्लोबल कंपनियों में से सबसे पहले फेसबुक ने 43574 करोड़ रुपये का निवेश करके 9.99 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी थी। इसके बाद सिल्वर लेक पार्टनर्स, विस्टा इक्विटी, जनरल एटलांटिक, केकेआर, मुबादला, टीपीजी, पीआईएफ और इंटेल जैसी कंपनियों ने निवेश किया है। रिलायंस जियो में हासिल किए गए इस निवेश से रिलायंस इंडस्ट्रीज को अपना कर्ज उतारने में सहायता मिली है और कंपनी अपने को निर्धारित समय से पहले कर्ज मुक्त करने में सफल रही है।



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।