Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

Reliance Health Insurance पॉलिसी पर IRDAI ने लगाई रोक, कंपनी की हालत कमजोर

IRDAI ने कहा है कि Reliance Health अपना पोर्टफोलियो 15 नवंबर तक Reliance General Insurance को ट्रांसफर करे।
अपडेटेड Nov 07, 2019 पर 17:59  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कर्ज के बोझ से डूबे Reliance ग्रुप के चेयरमैन अनिल अंबानी की एक और मुश्किल बढ़ गई है। The Insurance Regulatory and Development Authority of India (IRDAI) ने अनिल अंबानी के मालिकाना हक वाली Reliance Health Insurance कंपनी पर पॉलिसी की बिक्री पर रोक लगा दी है। IRDAI ने यह रोक सॉल्वेंसी मार्जिन नहीं बनाए रखने के चलते लगाई है।


IRDAI ने जारी किए गए अपने बयान में कहा है कि Reliance Health Insurance जिसका ऑपरेशन अक्टूबर 2018 में शुरु किया, उसने जून 2019 तक आवश्यक सॉल्वेंसी मार्जिन को नहीं बनाए रखा। लिहाजा Reliance Health अपना पोर्टफोलियो 15 नवंबर तक Reliance General Insurance को ट्रांसफर करे।


Reliance Health, Reliance Capital का पार्ट है और Reliance General Insurance के साथ स्वास्थ्य बीमा कारोबार को अलग करते हुए Reliance Health Insurance बनाई गई थी। IRDAI का कहना है कि जब सॉल्वेंसी मार्जिन को बनाए रखने के लिए कहा गया था तो Reliance Health ने इस पर कोई ध्यान नहीं दिया।


नियमों के मुताबिक सॉल्वेंसी मार्जिन 150 फीसदी से कम नहीं होना चाहिए। लेकिन अगस्त के आखिरी तक सॉल्वेंसी मार्जिन 77 फीसदी गिर गया और सितंबर के आखिरी तक ये मार्जिन 63 फीसदी रह गया। बता दें कि किसी बीमा कंपनी के सॉल्वेंसी मार्जिन से यह पता चलता है उसके पास विपरीत हालात में दावे निपटाने के लिए पर्याप्त रकम है या नहीं। 


फिलहाल सॉल्वेंसी मार्जिन को नहीं बनाए रखने के चलते IRDAI ने पॉलिसी बिक्री पर रोक लगा दी है।  


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।