Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

जॉनसन एंड जॉनसन ने अमेरिका, कनाडा में बेबी पाउडर की बिक्री पर लगाई रोक

जॉनसन एंड जॉनसन के बेबी पाउडर में कैंसर का खतरा होने के आरोपों लग रहे हैं
अपडेटेड May 21, 2020 पर 06:02  |  स्रोत : Moneycontrol.com

बच्चों के लिए उत्पाद बनाने वाली दुनिया की प्रसिद्ध कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन (Johnson & Johnson) ने अमेरिका (U.S.) और कनाडा (Canada) में हजारों शिकायतें मिलने के बाद बेबी पाउडर प्रोडक्ट की बिक्री बंद कर दी गई है। कहा जाता है कि पाउडर में एस्बेस्टस पाए जाने के कारण इस प्रोडक्ट की बिक्री में बड़ी गिरावट आई है।


कंपनी ने जारी किए अपने बयान में कहा है कि अमेरिका और कनाडा में सैकड़ों टेल्क आइटम्स की शिपिंग बंद कर दी थी, ताकि इनकी बिक्री बंद करने के लिए कमर्शियल डिसीजन (commercial decision) लिया जा सके। कंपनी की उत्तर अमेरिका (North America) कंज्यूमर यूनिट की चेयरमैन कैथलीन विडमर (Kathleen Widmer) ने कहा है कि आने वाले महीनों में जॉनसन एंड जॉनसन के प्रोडक्ट्स की बिक्री कम कर देंगे। उन्होंने आगे कहा कि जब तक सप्लाई खत्म नहीं हो जाती, तब तक सभी इन्वेंट्री रिटेल के जरिए बेची जाती रहेंगी। कंपनी के ब्लॉग के मुताबिक जॉनसन एंड जॉनसन ने सबसे पहले 1890 के दशक में बेबी पाउडर की बिक्री शुरू की थी। जॉनसन एंड जॉनसन के बेबी पाउडर में कैसर का खतरा होने का आरोप है। इस पाउडर में एस्बेस्टस पाए जाने का आरोप है। जिसके चलते कैंसर होने का खतरा है। कंपनी 2014 से ऐसे आरोपों का सामना कर रही है।


पिछले साल अक्टूबर में जॉनसन एंड जॉनसन ने अमेरिका में टेस्ट के लिए स्वेच्छा से 33 हजार डिब्बे वापस मंगा लिए थे। लेकिन कंपनी ने एक बयान में कहा कि टेस्ट के दौरान उसके प्रोडक्ट में एस्बेस्टस के कोई संकेत नहीं मिले। बता दें कि अमेरिकी फार्मा कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन की अपने बेबी पाउडर, शैम्पू और साबुन के जरिए भारत समेत दुनिया के अन्य देशों में एक खास पहचान है।


जॉनसन एंड जॉनसन ने ये फैसला ऐसे समय में लिया है जब बीते कुछ समय से प्रोडक्‍ट को लेकर लगातार आरोप लग रहे थे। जॉनसन एंड जॉनसन के खिलाफ अलग-अलग आरोपों में 16,000 से अधिक मुदकमे किए गए हैं। हालांकि, जॉनसन एंड जॉनसन ने समय-समय पर इन आरोपों को खारिज भी किया है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें