Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

जुबिलेंट लाइफ साइसेंज ने Gilead की दवा Remdesivir के लिए किया करार

इस लाइसेंसिंग करार के तहत जुबिलेंट लाइफ साइसेंज को remdesivir का उत्पादन करने के लिए Gilead टेक्नोलॉजी ट्रांसफर करेगी.
अपडेटेड May 13, 2020 पर 13:21  |  स्रोत : Moneycontrol.com

दवा बनाने वाली भारतीय कंपनी Jubilant Life Sciences ने 12 मई को एलान किया है कि उसकी सब्सिडियरी  Jubilant Generics Limited ने भारत सहित दुनियाभार के 127 देशों में रेम्डेसिविर (Remdesivir) दवा के उत्पादन और बिक्री के लिए अमेरिकी कंपनी गिलीड (Gilead) के साथ non-exclusive करार किया है।


इस लाइसेंसिंग करार के तहत जुबिलेंट लाइफ साइसेंज की सब्सिडियरी  Jubilant Generics को remdesivir का उत्पादन करने के लिए Gilead टेक्नोलॉजी ट्रांसफर करेगी। बता दें कि गिलीड (Gilead) कि  इस एंटीवायरल दवा को अमेरिकी ड्रग रेगुलेटर USFDA ने Covid-19 के इलाज में इस्तेमाल करने की इजाजत दे दी है। Gilead की इस दवा को  USFDA से Covid-19 के इलाज के लिए इमरजेंसी यूज ऑथराइजेशन (EUA)मिला है।


इस करार पर बोलते हुए  Jubilant Life Sciences के को-चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर श्याम भारतीया और हरी भारतीया ने कहा कि हमें Gilead के साथ remdevisir दवा के लिए लाइसेंसिंग करार करने पर हमें भारी खुशी है। प्रारंभिक आंकड़ों के मुताबिक Covid-19 के इलाज में ये दवा प्रभावी पाई गई है। हम दवा पर चल रहे क्लीनिकल ट्रायल्स और रेग्यूलेटरी मंजूरियों पर नजर रखे हुए हैं। सभी जरुरी मंजूरियों के बाद हम  जल्द ही इस दवा का उत्पादन करने में सक्षम होंगे। लागत कम करने के लिए कंपनी इस दवा की एपीआई भी खुद ही बनाने पर फोकस करेगी।


Gilead ने पिछले हफ्ते कहा था कि वह कई केमिकल और ड्रग मेकर्स के साथ यूरोप, एशिया और दूसरे विकासशील देशों में कम से कम 2022 तक remdevisir दवा के उत्पादन और बिक्री के लिए बात कर रही है। COVID-19 के इलाज में इस दवा के प्रभावी पाए जाने से दुनिया भर में इसकी मांग है।


बता दें कि इसके पहले भी गिलीड (Gilead) के प्रवक्ता ने मनीकंट्रोल को ईमेल के जरिए दिए गए अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि हम वैश्विक स्तर पर इस दवा की सप्लाई और उत्पादन बढ़ाने के लिए दवा बनाने वाली कंपनियों (pharmaceutical) और केमिकल (chemical) उत्पादक कंपनियों का ग्लोबल कंर्सोटियम बनाने पर काम कर रहे हैं। हम सभी जरुरतमंद मरीजों को इस दवा की आपूर्ति के लिए प्रतिबद्ध  हैं।




सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।