Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

मधु कपूर अब यस बैंक की प्रमोटर नहीं रहीं, राणा कपूर के पास केवल 900 शेयर बचे

SBI के पूर्व चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर (chief financial officer –CFO) प्रशांत कुमार यस बैंक में CEO हैं
अपडेटेड Jun 01, 2020 पर 10:30  |  स्रोत : Moneycontrol.com

देश के प्राइवेट बैंक यस बैंक (Yes Bank) में अब बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा। बैंक के सह संस्थापक (co-founder) अशोक कपूर की पत्नी मधु कपूर और उनके परिवार में शगुन कपूर, गोगिया और गौरव अशोक कपूर के साथ साथ मधु कपूर की कंपनी मैग्स फिनवेस्ट प्राइवेट लिमिटेड (Mags Finvest Pvt Ltd) को अब बैंक के प्रमोटर के तौर पर नहीं माना जाएगा।


रेग्युलेटरी फाइलिंग (regulatory filing) में, यस बैंक ने कहा है कि मधु कपूर ग्रुप ने बैंक में अपनी शेयरहोल्डिंग को नॉन प्रमोटर (non-promoters) या पब्लिक शेयर होल्डर्स (public shareholders) के तौर पर reclassify करने की सहमित दे दी है। मधु कपूर, यस बैंक की फाउंडर अशोक कपूर की विधवा हैं। 


31 मार्च तक मधु कपूर के पास 14 करोड़ 1.12 फीसदी शेयर हैं और मैग्स फिनवेस्ट के पास बैंक में 3.72 करोड़ या 0.30 फीसदी से अधिक शेयर हैं।


यस बैंक ने शनिवार को रेग्युलेटरी फाइलिंग में कहा है कि बैंक को तारीख 28 मई, 2020 (29 मई, 2020 को प्राप्त) का मधु अशोक कपूर, शगुन कपूर गोगिया, गौरव अशोक कपूर और मैग्स फिनवेस्ट प्राइवेट लिमिटेड का लिखा पत्र मिला है। जिसमें लिखा है कि उन्होंने बैंक में अपने शेयरहोल्डिंग को नॉन-प्रमोटर शेयरहोल्डर्स (non-promoter shareholders) यानी पब्लिक शेयरहोल्डर्स (public shareholders) के तौर पर reclassify करने के लिए सहमति दे दी है।


जब रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने यस बैंक के डॉयरेक्टर्स बोर्ड को भंग कर दिया था। उसके 3 महीने मधु कपूर और उसके परिवार का यह फैसला आया है। मार्च महीने में स्टेट बैंक ने यस बैंक में निवेश के लिए अधिकतम 10,000 करोड़ रुपये की सीमा तय की थी।


निवेश के बाद SBI की यस बैंक में हिस्सेदारी 49 फीसदी हो गई है। SBI के पूर्व चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर (chief financial officer –CFO) प्रशांत कुमार यस बैंक में CEO हैं।


यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर ED  की जांच का सामना कर रहे हैं। हालांकि प्रमोटर के तौर पर राणा कपूर के पास केवल 900 शेयर हैं।


बता दें कि राणा कपूर ने मधु कपूर के दिवंगत पति अशोक कपूर के साथ मिलकर साल 2004 में नए जमाने के प्राइवेट बैंक के रूप में यस बैंक की स्थापना की थी। राणा कपूर और अशोक कपूर की पत्नियां आपस में बहनें हैं। राणा कपूर लंबे समय तक यस बैंक के टॉप लेवल पर रहे। फिलहाल वह भ्रष्टाचार के मामले में पुलिस हिरासत में है। यस बैंक को इस समय स्टेट बैंक की अगुवाई में कई अन्य बैंकों द्वारा ऑपरेट किया जा रहा है।  


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें