Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

एसेट क्वालिटी सुधारने पर फोकस: आईएफसीआई

प्रकाशित Thu, 29, 2018 पर 14:23  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नो योर कंपनी में आज रडार पर है सरकारी कंपनी आईएफसीआई। कंपनी के शेयर में जोरदार गिरावट आई है। 2 दिन में कंपनी का शेयर 7 फीसदी से ज्यादा लुढ़का है। साल के ऊपरी स्तर से ये शेयर 60 फीसदी नीचे लुढ़क गया है।


आईएफसीआई सरकारी कंपनी है जिसमें भारत सरकार की 56.42 फीसदी हिस्सेदारी है। आईएफसीआई सरकारी एनबीएफसी है जो इंडस्ट्रीज को फंडिंग का काम करती है। आईएफसीआई फाइनेंशियल सर्विसेज, स्टॉक हॉल्डिंग कॉरपोरेशन, आईएफसीआई फैक्टर्स, आईएफसीआई वेंचर कैपिटल, आईएफसीआई इंफ्रा डेवलपमेंट और एमपीकॉन आईएफसीआई की सब्सिडियरी हैं।


आईएफसीआई के ईडी बिस्वजीत बनर्जी ने सीएनबीसी-आवाज़ से बात करते हुए कहा कि बिनानी रिजॉल्यूशन से फायदा हुआ है। एनसीएलटी में बिनानी के बिकने के बाद 491.84 करोड़ रुपये मिले हैं। कंपनी ने करीब 17000 करोड़ रुपये के कर्जे दे रखें हैं। इसमें से 4000 करोड़ रुपये के कर्जों पर ब्याज नहीं मिल रहा है। कंपनी का फोकस एनपीए घटाने पर है।