Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

सरकार ने मदद नहीं की तो बंद हो जाएगा Vodafone-Idea: कुमार मंगलम बिड़ला

बिड़ला ने ककहा कि अगर सरकार की तरफ से कंपनी को कोई रिलीफ नहीं दी जाती है तो उनका ग्रुप इसमें इन्वेस्ट नहीं करेगा।
अपडेटेड Dec 07, 2019 पर 12:15  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Vodafone Idea Limited के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला ने शुक्रवार को कहा कि अगर सरकार कंपनी को राहत नहीं देती है तो कंपनी को बंद करना पड़ेगा। सुप्रीम कोर्ट ने 24 अक्टूबर को एक आदेश देकर कहा था कि वोडाफोन-आइडिया जैसी कंपनियां 92,000 करोड़ तक का कर्ज टेलीकॉम डिपार्टमेंट में तीन महीनों के अंदर जमा करें।


बिड़ला ने शुक्रवार को Hindustan Times Leadership Summit में कहा कि अगर सरकार की तरफ से कंपनी को कोई रिलीफ नहीं दी जाती है तो उनका ग्रुप इसमें इन्वेस्ट नहीं करेगा। यहां उनसे पूछा गया था कि क्या उन्हें लगता है कि सरकार की तरफ से उनको कोई राहत मिल सकती है।


उन्होंने कहा- उन्हें पता है कि डिजिटल इंडिया प्रोग्राम इसी पर निर्भर है। यह सेक्टर स्ट्रेटेजिक सेक्टर है। उन्होंने कहा है कि उन्हें पब्लिक सेक्टर से एक और प्राइवेट सेक्टर से तीन कंपनियां चाहिए तो हम उम्मीद कर रहे हैं कि हमें सरकार की ओर से कुछ राहत मिलेगी क्योंकि सेक्टर के सर्वाइवल के लिए यह जरूरी है। अगर हमें कुछ नहीं मिलता है तो हमें समझ लेना चाहिए कि कंपनी के लिए आगे का रास्ता बंद है।


उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि ऐसी नौबत नहीं आएगी लेकिन अगर कंपनी को राहत नहीं मिली तो कंपनी को बंद करना पड़ेगा क्योंकि दुनिया में ऐसी कोई कंपनी नहीं है जो तीन महीनों में इतना बड़ा जुर्माना भर सके।


हाल में सुप्रीम कोर्ट ने अपने एक आदेश में टेलीकॉम कंपनियों की Adjusted Gross Revenue (AGR) के मामले में सरकार की परिभाषा को सही ठहराया था। इसके बाद एयरटेल, वोडाफोन आइडिया समेत कई पुरानी टेलीकॉम कंपनियों पर कुल 1.47 लाख करोड़ रुपए सांविधिक बकाया चुकाने का दबाव है। इसमें स्पेक्ट्रम यूज़ फीस, लाइसेंस फीस और इन दोनों का 14 साल का ब्याज और जुर्माना शामिल है।


इसके अलावा रिलायंस जियो से कंपटीशन और भारी-भरकम कर्ज के चलते भी ये कंपनियां दबाव में है। वोडाफोन आइडिया पर कुल 1.17 लाख करोड़ रुपए का कर्ज है।


बता दें कि बिड़ला के बयान के वोडाफोन आइडिया के शेयर BSE पर 8.5 फीसदी गिरकर 6.69 रुपए प्रति शेयर पर आ गए।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।