Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

LVB-DBS deal:RBI का सुझाव, विलय से पहले लक्ष्मी विलास बैंक 50.5 करोड़ रुपए का टीयर-2 बॉन्ड खत्म करे

DBS India बैंक और लक्ष्मी विलास बैंक (LVB) का विलय 27 नवंबर से प्रभावी हो जाएगा
अपडेटेड Nov 27, 2020 पर 08:05  |  स्रोत : Moneycontrol.com

लक्ष्मी विलास बैंक ने गुरुवार को स्टॉक एक्सचेंज को यह जानकारी दी कि RBI ने बैंक को 50.5 करोड़ रुपए के टीयर-2 बॉन्ड भी पूरी तरह राइट ऑफ (बैलेंस शीट) से हटाने की सलाह दी है। RBI ने बैंक को सुझाव दिया है कि DBS India बैंक के साथ विलय से पहले वह अपना टीयर-2 बॉन्ड राइट ऑफ कर ले। DBS India बैंक और लक्ष्मी विलास बैंक (LVB) का विलय 27 नवंबर से प्रभावी हो जाएगा।


लक्ष्मी विलास बैंक ने एक रेगुलेटरी फाइलिंग में यह जानकारी दी है, "रिजर्व बैंक ने 26 नवंबर 2020 के एक लेटर में यह सुझाव दिया है कि 27 नवंबर को विलय से पहले सिरीज VII, सिरीज IX और सिरीज X बेसेल-III टीयर 2 बॉन्ड राइट ऑफ करने को कहा है।"


लक्ष्मी विलास बैंक का विलय शुक्रवार 27 नवंबर को DBS India बैंक के साथ होगा। इसी के साथ बैंक पर लागू मोरेटोरियम भी हट जाएगा। अभी मोरेटोरियम के तहत 25,000 रुपए निकालने की सीमा तय की गई है।


25 नवंबर को पीएम नरेंद्र मोदी की अगुवाई में कैबिनेट की बैठक में इस विलय को मंजूरी दे दी गई है। 27 नवंबर से लक्ष्मी विलास बैंक के सभी ब्रांच DBS India बैंक के ब्रांच हो जाएंगे।


RBI ने 17 नवंबर को लक्ष्मी विलास बैंक के बोर्ड पर कब्जा कर लिया था और एक महीने के लिए मोरेटोरियम लागू कर दिया था। बड़े SMEs को ज्यादा लोन देने के कारण लक्ष्मी विलास बैंक का NPA बढ़ गया जिसकी वजह से बैंक की पूंजी लगभग खत्म हो गई थी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।