Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

SEBI ने PMS फंड में निवेश डबल करके 50 लाख रुपए किया

SEBI की बोर्ड बैठक में राइट्स इश्यू की समय सीमा घटाने और राइट्स इश्यू प्रक्रिया में बदलाव को मंजूरी दे दी गई है
अपडेटेड Nov 21, 2019 पर 15:10  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

SEBI की बोर्ड बैठक खत्म हो गई है। इस बोर्ड बैठक में राइट्स इश्यू की समय सीमा घटाने और राइट्स इश्यू प्रक्रिया में बदलाव को मंजूरी दे दी गई है। सेबी की आज की इस अहम बैठक में राइट्स इश्यू और पोर्टफोलियो मैनेजमेंट नियमों में बदलाव के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है जिसके तहत पोर्टफोलियो मैनेजर्स के क्लाइंट का न्यूनतम इनवेस्टमेंट 25 लाख रुपये से बढ़ाकर 50 लाख रुपये करने का फैसला लिया गया है।


पुराने पोर्टफोलियो मैनेजर्स को नेटवर्थ नियमों के लिए 36 महीने का वक्त दिया गया है। इसके साथ ही पोर्टफोलियो मैनेजर्स का नेटवर्थ 2 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 5 करोड़ रुपये करने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी गई है। इसके अलावा राइट्स इश्यू के नियमों में बदलाव करते हुए राइट्स इश्यू की समय सीमा 55 दिन से घटाकर 33 दिन करने को भी मंजूरी दे दी गई है।


बता दें कि पिछले कुछ महीनों में IL&FS समेत कई कंपनियों के लोन डिफॉल्ट जैसी कई घटनाएं सामने आई हैं। कई मामलों में तो कर्ज चुकाने में देरी की जानकारी इतनी देर बात आई, जब तक निवेशक उस कंपनी के शेयर में फंस चुके थे। इन्हीं सबको ध्यान में रखकर सेबी ने ये बदलाव किए हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।