Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

माइंडट्री ने एलएंडटी पर लगाया जबरन टेकओवर का आरोप

प्रकाशित Wed, 20, 2019 पर 11:38  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

एलएंडटी ने आईटी फर्म माइंड ट्री को खरीदने का एलान कर दिया है। माइंडट्री प्रोमोटर्स की आपत्तियों के बाद भी एलएंडटी ने डील का एलान किया है। एलएंडटी ने बताया कि वो वो माइंडट्री में वी जी सिद्धार्थ का 20 फीसदी हिस्सा 3200 करोड़ रुपये में खरीदेगी। इसके अलावा एलएंडटी ने करीब अतिरिक्त 31 फीसदी हिस्सा लेने के लिए ओपेन ऑफर की बात कही है। साथ ही कंपनी माइंड ट्री का 15 फीसदी इक्विटी खरीदेगी। इस तरह से अगर ये डील पूरी हुई तो माइंड ट्री के 66 फीसदी हिस्से पर एलएंडटी का अधिकार हो जाएगा। इस डील को लेकर माइंड ट्री और एलएंडटी के मैनेजमेंट में बयानबाजी भी शुरू हो गई है। पहले माइंड ट्री ने इस खरीदारी को बहुत जोर जबरदस्ती वाला बताया तो वहीं एलएंडटी मैनेजमेंट ने सफाई में कहा कि वो डील दिल से कर रहे हैं।


एलएंडटी मैनेजमेंट के बयान में कहा गया है कि हम किसी भी तरह का टेकओवर नहीं कर रहे हैं। माइंडट्री के शेयर धारकों ने डील का समर्थन किया है। माइंडट्री ने हिस्सा खरीद का प्रस्ताव दिया था। माइंडट्री में सौदा होस्टाइल टेकओवर नहीं है। कुछ प्रोमोटर अपनी इच्छा से निकलना चाहते हैं। माइंडट्री को भविष्य में बड़े साझेदार की जरुरत है। हमने कुछ भी गलत नहीं किया है। हम जो पैसा लगा रहे हैं वो मेहनत की कमाई की है। खून पसीने की कमाई माइंड ट्री में निवेश कर रहे हैं।


वहीं, माइंड ट्री कंपनी के एग्जिक्यूटिव चेयरमैन कृष्णकुमार नटराजन ने एलएंडटी की अधिग्रहण की कोशिश को गलत बताया है।