Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

Mother's Day 2019: मां को दीजिए फाइनेंशियल फ्रीडम का तोहफा

प्रकाशित Fri, 10, 2019 पर 10:52  |  स्रोत : Moneycontrol.com

मदर्स डे जैसा बहुत ही खास दिन आ गया है। इस दिन आप अपनी जिंदगी की सबसे खास इंसान के होने का सेलिब्रेशन करते हैं। आपकी मां आपकी जिंदगी का सबसे अहम हिस्सा हैं। वो हैं, तो आप हैं। ऐसे में इस दिन को यूं ही कैसे जाने दें?


इस दिन अपनी मां को एहसास दिलाइए कि आप कितने लकी हैं कि वो आपकी जिंदगी में हैं। उन्हें बताइए कि आपकी बिजी लाइफ में भी वो आपके लिए कितना महत्व रखती हैं। उन्हें बताइए कि आप उनके कितने शुक्रगुजार हैं।


चाहे आप मां के साथ रहते हों या नहीं, मां को खुश करने के बहुत से तरीके हैं। यूं तो उनके लिए आपका एक फोन कॉल ही काफी है लेकिन जरूरी तो नहीं कि आप अपने सेलिब्रेशन की यहीं इतिश्री कर लें।


मदर्स डे पर अपनी मां को गिफ्ट देकर भी आप खुश कर सकते हैं। मदर्स डे पर बहुत से ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स पर कई तरह के ऑफर्स मिल रहे हैं, जहां आपको अच्छे गिफ्ट्स मिल जाएंगे। लेकिन आप अपनी मां को इससे भी अच्छा तोहफा दे सकते हैं। आप उन्हें फाइनेंशियल फ्रीडम यानी आर्थिक आजादी दे सकते हैं। ऐसे बहुत सारे तरीके हैं, जिनसे आप अपनी मां को फाइनेंशियली ज्यादा मजबूत बना सकते हैं। इस मदर्स डे कुछ अलग करिए  और अपनी मां को आर्थिक आजादी दें और ये कैसे करना है वह हम आपको बता रहे हैं-


उनका बजट तैयार करें


अपनी अपनी मां के बजट पर एक बार नजर डालें। उनका बजट तैयार करें। देखें कि उनकी क्या जरूरत है और आप उनकी कितनी मदद कर सकते हैं। उनकी मेडिकल इमरजेंसी इंश्योरेंस प्रीमियम वगैरह का खर्च खुद उठा लें। छोटे-मोटे घरेलू खर्चों के लिए आप उनकी मदद कर सकते हैं।



उन्हें पैसे देने के बजाय, उनके लिए पैसे खर्च करें


अपनी मां को नियमित रूप से एक फिक्स्ड अमाउंट देने की बजाय आप उनके लिए उनके कुछ खर्चों को अपने कंधों पर ले लें। उनकी यूटिलिटी बिल या हेल्थ इंश्योरेंस का प्रीमियम भरना, यह सब कुछ आप खुद करें। हो सकता है कि आपकी मां आप से पैसे लेने में सहज महसूस ना करती हों इसलिए उन्हें पैसे देने से देने से ज्यादा अच्छा है कि आप उनका खर्चा खुद उठाएं। आप उनके मेडिकल खर्चे भी उठा सकते हैं या फिर उनके लिए हॉलीडे प्लान खरीद सकते हैं। इसके अलावा उनके लिए इलेक्ट्रिकल गैजेट्स और होम अप्लायंसेज खरीदकर रोजमर्रा के काम आसान बना सकते हैं।


उनकी वसीयत बनवाएं


अपनी मां के संपत्ति का पेपरवर्क तैयार रखें। वसीयत बनाने में उनके मदद करें। उनके इन्वेस्टमेंट, टैक्स रिटर्न, टाइम से प्रीमियम भरना, बिल का पेमेंट करना वगैरह चीजों को चेक करते रहें। इससे उन्हें पेनाल्टी या फाइन की चिंता नहीं करनी पड़ेगी और वो आसानी से अपना फाइनेंस मैनेज कर सकेंगी। अपनी मां के लिए उनकी विल यानी वसीयत जरूर तैयार करवाएं ताकि अपनी संपत्ति का बंटवारा करना उनके हाथ में हो और वह खुद तय कर सकें कि वह अपनी संपत्ति के साथ क्या करना चाहती हैं।


फाइनेँशियल प्लानर हायर करें


जरूरी नहीं कि आप अपनी मां का पूरा फाइनेंस मैनेज करने में सक्षम हों। ये भी जरूरी नहीं कि आप एक्सपर्ट हों, इसलिए आप उनके लिए एक फाइनेंशियल प्लानर भी हायर कर सकते हैं जो आपकी मां की फ्यूचर प्लानिंग को लेकर उनकी मदद कर सकता है। फाइनेंशियल प्लानर अच्छी एनालिसिस करने में भी सक्षम होगा और वह यह भी बताएगा कि उन्हें कौन सा एक्शन लेना चाहिए, उनके लिए क्या फायदेमंद होगा। वो उनके फाइनेंशियल रिसोर्सेज और इन्वेस्टमेंट पर नजर रखेगा। इससे हो सकता है कि उसकी मदद के बाद से आपके बजट का बोझ भी हल्का हो।


अलग से सेविंग्स अकाउंट खोलें


आप अपनी मां के लिए अलग से सेविंग अकाउंट खोल सकते हैं। अगर आपको नियमित रूप से अपनी मां की मदद करनी है या फिर लॉन्ग टर्म के लिए आप कुछ करना चाहते हैं तो अच्छा होगा कि आप उनके लिए अलग से सेविंग्स अकाउंट खोले, जिसमें आप उनके लिए सेविंग्स कर सकते हों। इससे आपका अकाउंट भी उनके साथ क्लैश नहीं होगा। आप उनके साथ एक जॉइंट अकाउंट खोल सकते हैं। सेविंग्स अकाउंट में आप उनके लिए सेविंग कर पाएंगे और लंबे वक्त के लिए या आगे की जरूरतों के लिए आपके पास एक निश्चित रिसोर्स होगा।