Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

गैस लीक मामला: NGT ने LG Polymers India पर 50 करोड़ रुपए की अंतरिम पेनाल्टी ठोकी

NGT ने कहा, जांच के बाद कंपनी की हैसियत और नुकसान के आधार पर पेनाल्टी बढ़ाई जाएगी
अपडेटेड May 09, 2020 पर 14:31  |  स्रोत : Moneycontrol.com

नेशनल ग्रीन ट्राइब्यूनल ने LG Polymers India पर 50 करोड़ रुपए की अंतरिम पेनाल्टी लगाई है। साथ ही इस मामले में केंद्र सरकार की राय भी मांगी है। गुरुवार सुबह 2.30 बजे LG Polymers India के कारखाने से जहरीली गैस का रिसाव होने से 11 लोगों की मौत हो गई और करीब 200 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया था।


नेशनल ग्रीन ट्राइब्यूनल (NGT) ने शुक्रवार को कहा कि ऐसा लगता है कि कंपनी नियमों और दूसरे सैच्युटरी प्रावधानों को पूरा करने में नाकाम रही है।


NGT चेयरपर्सन जस्टिस आदर्श कुमार गोयल की अगुवाई में 5 सदस्यीय जांच कमिटी बनी है। यह कमिटी गुरुवार को LG Polymers India की फैक्टरी में हुए गैस रिसाव के कारणों की जांच करेगी। कमिटी की अपनी रिपोर्ट 18 मई तक जमा करनी है।


बेंच ने कहा कि पहली नजर में साफ है कि इससे लोगों की जान और पर्यावरण को नुकसान हुआ है। हम LG Polymers India को 50 करोड़ रुपए की शुरुआती रकम पेनाल्टी के तौर पर डिस्ट्रीक मजिस्ट्रेड के पास जमा करने का आदेश कर रहे हैं। इस मामले में आगे और फैसले लिए जाएंगे। बेंच ने कहा, "कंपनी की वित्तीय स्थिति और नुकसान के आधार पर पेनाल्टी की पूरी रकम तय की जाएगी।"


NGT ने पर्यावरण और वन मंत्रालय, LG Polymers India, आंध्र प्रेदश स्टेट पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड, सेंट्रल पॉल्यूशन सेंट्रल बोर्ड, विशाखापत्तनम डिस्ट्रिक मजिस्ट्रेट को नोटिस जारी किया है और इस मामले में 18 मई से पहले जवाब मांगा है।


NGT की जांच कमिटी में आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट के जज बी शेषासयाना रेड्डी, आंध्र प्रदेश यूनिवर्सिटी के वीसी वी राम चंद्रा मूर्ति,  आंध्र प्रदेश यूनिवर्सिटी के केमिकल  इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट के हेड प्रोफेसर पुलिपती किंग, CSIR इंडियन इंस्टीट्यट ऑफ केमिकल टेक्नोलॉजी डायरेक्टर और विशाखापत्तनम में NEERI के हेड भी शामिल हैं। 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।