Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

प्रोमोटर हिस्सेदारी घटाने की योजना नहीं: चमनलाल सेतिया

प्रकाशित Tue, 27, 2018 पर 14:39  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

चमनलाल सेतिया एक्सपोर्ट्स चावल मिलिंग और एक्सपोर्ट का काम करती है। कंपनी बासमती चावल की सभी किस्मों का एक्सपोर्ट करती है। करनाल और अमृतसर में कंपनी के मिल हैं। कंपनी को सरकार से स्टार एक्सपोर्ट हाउस की मान्यता है। महारानी ब्रांड के तहत कंपनी के उत्पाद बिकते हैं। सितंबर तिमाही में चमनलाल सेतिया एक्सपोर्ट्स की आय 12.5 फीसदी गिरकर 188.8 करोड़ करोड़ रुपये रही है वहीं, मुनाफा 26 फीसदी गिरकर 10.45 करोड़ करोड़ रुपये रहा है। सरकार ने चावल कंपनियों को राहत देते हुए गैर बासमती चावल एक्सपोर्ट पर रियायत बढ़ाई है। चावल पर 5 फीसदी एक्सपोर्ट रियायत मार्च तक बढ़ा दी गई है।


चमनलाल सेतिया एक्सपोर्ट्स के ईडी राजीव सेतिया ने कहा कि कंपनी अपने उत्पादन का 80 फीसदी एक्सपोर्ट करती है। दुनिया के 85 देशों में कंपनी एक्सपोर्ट करती है। कंपनी मध्यपूर्व के देशों में बेगम ब्रांड के तहत बासमती निर्यात करती है। कंपनी अपने उत्पाद बेचने के अलावा दूसर कंपनियों के लिए पैकेजिंग और लेवलिंग का भी काम करती है। कंपनी मुख्यरूप से बासमती का निर्यात करती है लेकिन जरूरत पड़ने पर दूसरे चावल भी निर्यात करती है। कंपनी में प्रोमोटर स्टेक घटाने की कोई योजना नहीं।