Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

क्षमता में 20-25% बढ़ोतरी की योजना: जीएनए एक्सल्स

प्रकाशित Fri, 04, 2019 पर 14:47  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आज नो योर कंपनी में रडार पर है जीएनए एक्सल्स। जीएनए एक्सल्स ऑटो ट्रांसमिशंस कंपोनेंट बनाने का काम करती है। जीएनए एक्सल्स, एक्सल शॉफ्ट और स्पिंडल की प्रमुख कंपनी है। घरेलू बाजार में कंपनी की 50 फीसदी हिस्सेदारी है। कंपनी का कमर्शियल वाहनों के लिए होता है। साथ ही माइनिंग और डिफेंस के लिए भी कंपनी सेवाएं देती है।


जीएनए एक्सल्स के प्रमुख ग्राहकों में एस्कॉर्ट्स, अशोक लेलैंड और महिंद्रा एंड महिंद्रा जैसे दिग्गज नाम शामिल हैं। पंजाब में कंपनी के 2 प्लांट हैं। जीएनए एक्सल्स का मार्केट कैप 770 करोड़ रुपये है। कंपनी में प्रोमोटरों की हिस्सेदारी 65.86 फीसदी है। कंपनी का शेयर साल के अपने शिखर से 38 फीसदी नीचे कारोबार कर रहा है।


सीएनबीसी-आवाज़ से बातचीत में जीएनए एक्सल्स के प्रेसिडेंट और सीईओ, रणबीर सिंह ने बताया कि कंपनी का 50 फीसदी कारोबार घरेलू बाजार और 50 फीसदी एक्सपोर्ट बाजार से आता है। अमेरिका में क्लास 5 से क्लास 8 के वाहनों में लगने वाले ऑटो कंपोनेंट में जीएनए एक्सल्स की अच्छी हिस्सेदारी है। कमर्शियल व्हीकल सेगमेंट की ग्रोथ पर खास असर नहीं है। कमर्शियल व्हीकल सेगमेंट की ग्रोथ आगे 14-15 फीसदी के बीच रहेगी। वहीं ट्रैक्टर सेगमेंट में 9-10 फीसदी की ग्रोथ देखने को मिलेगी।


रणबीर सिंह ने कहा कि बीएस 6 नियमों डिमांड में बढ़ोतरी होगी। यूरोप और अमेरिका से अच्छी मांग आ रही है। आगे कंपनी की क्षमता में 20-25 फीसदी की बढ़ोतरी की योजना है। कंपनी की एसयूवी के लिए एक्सेल बनाने की भी तैयारी है। इसके लिए नया प्लांट लगानें की योजना है। अगले साल कंपनी को 15 फीसदी ग्रोथ की उम्मीद है।