Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

जॉब डाटा में प्रोफेशनल्स भी शामिल होंगे, जानिए क्या होगा पहले से अलग

सरकार इस मामले में एक फ्रेमवर्क नोटिफाई करने वाली है
अपडेटेड Aug 13, 2019 पर 16:24  |  स्रोत : Moneycontrol.com

रोजगार के मोर्चे पर नरेंद्र मोदी सरकार को कई बार आलोचनाओं का निशाना बनना पड़ा है। सरकार अब रोजगार के आंकड़े जुटा रही है। इसमें वकील, चार्टर्ड अकाउंटेंट्स और आर्किटेक्ट के साथ ओला, उबर जैसी कंपनियों को भी यह बताना होगा कि उन्होंने कितना रोजगार मुहैया कराया है।


इस बारे में जानकारी रखने वाले एक अधिकारी ने बताया कि सरकार इस मामले में एक फ्रेमवर्क नोटिफाई करने वाली है। उन्होंने कहा कि एक हाई लेवल मीटिंग में यह फैसला किया गया है। अधिकारी ने यह बताया कि जल्द ही इस मामले में एक नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा।


सरकार ने 23 ऐसे ऑर्गेनाइजेशन की पहचान की है जो रजिस्टर्ड प्रोफेशनल्स की जानकारी देंगे। इसमें ओला, उबर जैसी कंपनियां भी शामिल होंगी जो ड्राइवर हायर करते हैं।


अधिकारी ने बताया कि सरकार में इस बात को लेकर सहमति बनी है कि इंडिया के ओवरऑल जॉब डाटा में प्रोफेशनल बॉडीज के भी नंबर जोड़े जाएंगे। अभी तक हाउसहोल्ड और एंटरप्राइज सर्वे के आंकड़े रोजगार के अनुमान के लिए इस्तेमाल किए जाते थे। 


अधिकारी ने बताया कि मिनिस्ट्री ऑफ लेबर और मिनिस्ट्री ऑफ स्टैस्टिक्स ये आंकड़ा जुटाएंगे। सरकारी थिंक टैंक नीति आयोग ने पहले डाटा एनालिटिक्स सेल के जरिए सूचना जुटाने की कोशिश की थी लेकिन संस्थाओं के बेरूखी के कारण यह नहीं हो पाया था।