Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

RBI ने तीन सदस्यों की कमिटी बनाई, DHFL एडमिनिस्ट्रेटर की करेगी मदद

इससे पहले RBI ने DHFL के बोर्ड को भंग करके एडमिनिस्ट्रेटर नियुक्त किया था
अपडेटेड Nov 23, 2019 पर 14:29  |  स्रोत : Moneycontrol.com

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने शुक्रवार को तीन सदस्यीय कमिटी बनाई है। यह कमिटी दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (DHFL) के नए एडमिनिस्ट्रेटर को सहयोग करेगी। RBI ने कर्ज में फंसी DHFL के बोर्ड को भंग करके आर सुब्रमण्यकुमार को एडमिनिस्ट्रेटर नियुक्त किया है। सुब्रमण्यकुमार ओवरसीज बैंक के पूर्व एमडी और चीफ एग्जिक्यूटिव (CEO) हैं।


RBI ने तीन सदस्यों की जो एडवाइजरी कमिटी बनाई है उसमें डॉक्टर राजीव लाल, एनएस कनन और एनएस वेंकटेश शामिल हैं। लाल, IDFC First Bank के नॉन एग्जिक्यूटिव चेयरमैन हैं। वहीं कनन ICICI प्रूडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस के मैनेजिंग डायरेक्टर और CEO हैं। वेंकेटेश एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड (एम्फी) के चीफ एग्जिक्यूटिव हैं।


RBI जल्द ही दिवालिया हो चुकी DHFL को नेशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल (NCLT) में लेकर जाने वाला है। यह पहली बार है जब कोई NBFC कंपनी IBC (इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड) में जा रही है।


RBI ने अपने बयान में कहा है, "रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया एक्ट, 1934 के सेक्शन 45-IE (I) के तहत मिल अधिकारों के आधार पर दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड के बोर्ड को खत्म किया जा रहा है। कंपनी के गवर्नेंस को लेकर कई मसले हैं। साथ ही इस पर काफी बकाया है।"


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।