Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

वोडाफोन के m-pesa का कारोबार बंद, RBI ने रद्द किया ऑथराइजेशन

वोडाफोन ने अपनी इच्छा से ऑथराइजेशन सर्टिफिकेशन लौटाने के बाद इसे रद्द किया गया है
अपडेटेड Jan 22, 2020 पर 16:54  |  स्रोत : Moneycontrol.com

RBI ने मंगलवार को बताया कि उसने वोडाफोन "एम-पैसा" (m-pesa) का सर्टिफिकेट ऑफ ऑथराइजेशन (COA) कैंसल कर दिया है। यह ऑथराइजेशन कैंसल होने के बाद कंपनी का एम-पैसा कारोबार नहीं कर सकता है। लिहाजा वोडाफोन ने अपनी पेमेंट बैंक इकाई "एम-पैसा" का कामकाज बंद कर दिया है।


रिजर्व बैंक ने बताया कि वोडाफोन ने अपनी इच्छा से ऑथराइजेशन सर्टिफिकेशन लौटाने के बाद इसे रद्द किया गया है। RBI ने मंगलवार को कहा कि COA रद्द होने के बाद कंपनी प्रीपेड भुगतान से जुड़े कार्य नहीं कर सकेगी।


हालांकि ग्राहकों या व्यापारियों का भुगतान प्रणाली परिचालक (PSO) के रूप में कंपनी के ऊपर कोई लीगल दावा है तो वे COA रद्द होने के तीन साल के भीतर यानी 30 सितंबर 2022 तक दावा कर सकते हैं।


पिछले साल वोडाफोन आइडिया ने आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट बैंक लिमिटेड (ABIPBL) के बंद होने के बाद एम-पैसा इकाई को बंद कर दिया था। वोडाफोन एम-पैसा उन 11 कंपनियों में शामिल है जिसे आरबीआई ने 2015 में पेमेंट बैंक का लाइसेंस दिया था।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।