Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

99% आबादी तक जियो को पहुंचाने का लक्ष्य

प्रकाशित Thu, 05, 2018 पर 11:08  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

टेलीकॉम के बाद अब रिलायंस इंडस्ट्रीज ने डीटीएच में भी धमाका किया है। जियो गीगा फाइबर नाम से ब्रांडबैंड सर्विस शुरू की है। इसमें खास ये है कि एक बॉक्स से टीवी, ब्रॉडबैंड और फोन यानी तीनों सेवाएं मिलेंगी। कंपनी ने जियोफोन में नए फीचर्स भी डाले हैं। साथ ही 15 अगस्त से 2999 में नया जियोफोन-2 भी मिलेगा। यही नहीं पुराने फोन को 501 रुपये देकर नया जियो फीचर फोन भी पा सकेंगे।


रिलायंस इंडस्ट्रीज की 41वीं एजीएम में शेयरधारकों को संबोधित करते हुए रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि पिछले 10 साल रिलायंस के लिए शानदार रहे हैं। इस अवधि में रिलायंस के मुनाफे में बड़ा बदलाव हुआ है। रिलायंस निजी क्षेत्र में सबसे बड़ा टैक्सपेयर है। वित्त वर्ष 2018 में कंपनी का मुनाफा 20.6 फीसदी बढ़कर 36076 करोड़ रुपये रहा है। पेटकेम की तरह ही कंपनी का कंज्यूमर कारोबार पर भी फोकस है। भारत के कुल एक्सपोर्ट में आरआईएल का हिस्सा 8.9 फीसदी है। पिछले साल कंपनी ने 26312 कस्टम और एक्साइज ड्यूटी दी है।


मुकेश अंबानी ने आगे कहा कि रिलायंस जियो को देश के 99 फीसदी आबादी तक ले जाने का लक्ष्य है। हर जिले, गांव में जियो पहुंचाने की कोशिश की जा रही है। हर महीने 240 करोड़ जीबी डाटा का इस्तेमाल हो रहा है। रिलायंस जियो के पास आज 22 करोड़ ग्राहक हैं। कंपनी की कुल एबिटडा में रिटेल, टेलीकॉम का हिस्सा 13 फीसदी है।


आरआईएल के एजीएम में आकाश अंबानी ने बताया कि आरआईएल ने जियो फोन-2 लॉन्च किया है जिसमें व्हॉट्सऐप, फेसबुक, यू ट्यूब भी चलाए जा सकेंगे। इसके अलावा जियो गीगा राउटर और जियो गीगा टीवी सेट टॉप बॉक्स भी लॉन्च किया गया है जिसमें वॉइस कमांड फीचर भी मौजूद है। जियो गीगा टीवी भारत में टीवी देखने का तरीका बदल देगा।


जियो गीगा फाइबर रिलायंस की ब्रॉडबैंड सेवा होगी जिसमें सस्ती दर पर हाइस्पीड वाई-फाई सेवा मिलेगी। ये जियो टीवी सेटअप बॉक्स से कनेक्ट होगा। इसके जरिए आप 4के रिजल्यूशन में कंटेंट देख पाएंगे और आपका टीवी वॉयस कमांड फीचर से भी चलेगा। इसमें आप रिमोट को भी वॉयस कमांड दे पाएंगे। इसके साथ ही वीआर हेडसेट भी लॉन्च किया गया है। आपकी मांग पर इंजीनियर इसको सिर्फ 1 घंटे में सेटअप करेंगे।


मुकेश अंबानी ने कहा कि भारत में 2.5 करोड़ लोगों के पास जियो फोन मौजूद हैं। अतिरिक्त निवेश के बिना जियो की क्षमता बढ़ाई जाएगी। कंपनी की योजना सस्ती दर पर ब्रॉडबैंड कनेक्शन मुहैया कराने की है। जियो गीगा फाइबर के नाम से फाइबर ब्रॉडबैंड लॉन्च किया गया है। फाइबर कनेक्टिविटी में 2.5 लाख करोड़ रुपये निवेश किये गए हैं। आगे रिलायंस इंडस्ट्रीज फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड में टॉप 5 कंपनियों में होगी।


मुकेश अंबानी ने बताया कि जियो गीगा फाइबर का रजिस्ट्रेशन 15 अगस्त से शुरू होगा। जियो गीगा फाइबर देश के 1100 शहरों में लॉन्च होगा। माई जियो या जियो डॉटकॉम पर जियो गीगा फाइबर रजिस्ट्रेशन हो सकेगा। जियो गीगा फाइबर सेवा 1 घंटे में मुहैया होगी। जियो की नई सेवाएं 15 अगस्त से शुरू होंगी। 15 अगस्त से ही जियो फोन-2 बाजार में मिलने लगेगा। नए जियो फोन-2 की कीमत 2999 रुपये होगी। 21 जुलाई से पुराना फोन बदलने की सुविधा भी शुरू होगी। 21 जुलाई से जियो फोन का मॉनसून ऑफर शुरू होगा। 501 रुपये में पुराना जियो फोन बदलने का ऑफर होगा। इस ऑफर में पुराना जियो फोन देकर नया जियो फोन लिया जा सकेगा। जियो फोन 2 में फुल कीपैड के साथ कई अन्य फीचर्स भी मौजूद हैं। उन्होंने ये भी बताया कि जियो की आय 100 फीसदी ग्रोथ के साथ 69000 करोड़ के पार हो गई है। स्कूल, गांवों में जियो ब्रॉडबैंड सेवा देने की कोशिश है।


मुकेश अंबानी ने कहा की कंपनी की योजना छोटे कारोबारियों के लिए रास्ता तैयार करने की है। रिलायंस रिटेल ने इस साल 4000 नए स्टोर खोले हैं। इन स्टोर्स में 1 साल में 5 लाख टन से ज्यादा किराना बेचा गया है। छोटे व्यापारियों को वित्तीय सहायता देने की भी योजना है। रिलायंस किसानों के लिए दोगुनी से ज्यादा आय चाहता है।


उन्होंने आगे कहा कि आरआईएल के पास सबसे बड़ा इंटरटेनमेंट प्लैटफॉर्म है। नेटवर्क 18 देखने वालों की संख्या 70 करोड़ के पार है। नेटवर्क 18 के डिजिटल, रीजनल कंटेंट पर फोकस किया जा रहा है। हर दूसरा व्यक्ति नेटवर्क 18 के कंटेंट से जुड़ा है। कंपनी के डिजिटल प्लेटफार्म से ग्राहकों की जरूरत का पता चलता है। कंपनी के 1300 पेट्रोल पंपों ने भी जबरदस्त ग्रोथ दर्ज की है। रिलायंस फाउंडेशन का विस्तार जारी रखा जाएगा।


जियो ने आज जो घोषणाएं की हैं वो टेलीकॉम के साथ-साथ कम्युनिकेशन और मीडिया से जुड़ी सभी कंपनियों पर असर डालेंगी। टेलीकॉम एक्सपर्ट, भारती एयरटेल के पूर्व सीईओ और टेक कनेक्ट रिटेल के डायरेक्टर संजय कपूर का कहना है कि जियो आज टेलीकॉम सेक्टर में फर्स्ट मूवर है। उन्होंने कहा कि आज की तारीख में थॉट लीडरशिप सिर्फ रिलायंस जियो के पास है। जियो आज टेलीकॉम सेक्टर में हर फैसले पहले ले रहा है। पहले वायरलेस और अब फिक्स्ड लाइन में जियो को फर्स्ट-मूवर एडवांटेज मिलेगा।


ट्रैकॉम स्टॉक ब्रोकर्स के पार्थिव शाह का कहना है कि रिलांयस में निवेशकों के लिए कई मौके है और लंबी अवधि में निवेश से बड़ा फायदा होगा।


रिलायंस एजीएम में बड़ें एलानों के बाद बाजार में एक्शन देखने को मिला। जियो ब्रॉडबैंड का एलान करने के बाद ब्रॉडबैंड शेयरों में दबाव देखने को मिला। हाथवे केबल, डेन नेटवर्क और जीटीपीएल में 9 से 15 फीसदी तक की गिरावट देखने को मिली। वहीं केबल टीवी के शेयरों में भी दबाब देखा गया। सिटी नेटवर्क में 6 फीसदी से ज्यादा गिरावट देखने को मिली। वहीं डीश टीवी में फ्लैट कारोबार देखने को मिला।


डिस्क्लोजरः मनीकंट्रोल डॉट कॉम रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है। नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है।