Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

1.3 गुना सब्सक्राइब हुआ रिलायंस का राइट्स इश्यू, आज ऑफर का अंतिम दिन

मंगलवार के आंकड़ों के मुताबिक यह इश्यू 1.3 गुना सब्सक्राइब हुआ है।
अपडेटेड Jun 03, 2020 पर 14:58  |  स्रोत : Moneycontrol.com

मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industrie) के 53,124 करोड़ रुपये के राइट्स इश्यू को शेयरधारकों से जोरदार रिस्पॉन्स मिला है। बता दें कि आज ये ऑफर बंद होगा। मंगलवार के आकंड़ो के मुताबिक यह इश्यू 1.3 गुना सब्सक्राइब हुआ है। 42.26 करोड़ शेयरों के ऑफर के मुकाबले 54.94 करोड़ इक्विटी शेयरों का सब्सक्रिब्शन आवेदन मिला है।


कल शाम 5 बजे तक कंपनी को non-ASBA सेगमेंट में 70 लाख बोलियां मिली थी। इन राइट्स शेयरों में 3 जून तक खरीदारी करने वाले निवेशकों को गुरुवार 11 जून 2020 तक उनके डीमर्ट अकाउंट में RILके आंशिक रुप से चुकता शेयरों का अलॉटमेंट मिल सकता है।


लेटर ऑफ ऑफर में दी गई जानकारी के मुताबिक ये आंशिक चुकता शेयर स्टॉक एक्सचेंज पर अलग से लिस्ट होंगे और इनमें 12 जून 2020 से ट्रेडिंग शुरु हो सकेगी।


RIL के राइट्स इश्यू का प्राइस 1257 रुपए प्रति शेयर तय किया गया था। इसमें निवेशकों को छूट ये है कि वो फिलहाल 25 फीसदी रकम देकर ही ये शेयर ले सकते हैं। यानी उन्हें अपफ्रंट सिर्फ 314.25 रुपए देना होगा। इसके बाद 25 फीसदी रकम मई 2021 तक देना होगा। बाकी का 50 फीसदी पैसा नवंबर 2021 तक देने का वक्त रहेगा।​


रिलायंस इंडस्ट्रीज को बड़ी मात्रा में निवेशकों का समर्थन प्राप्त है। इसके 25.4 लाख से ज्यादा खुदरा निवेशक हैं जबकि 1700 संस्थागत निवेशकों ने रिलायंस इंडस्ट्रीज में निवेश कर रखा है जिसमें घरेलू और विदेशी दोनों तरह के निवेशक शामिल हैं।


मेहता इक्विटीज के एवीपी रिसर्च प्रशांत तापसे ने मनीकंट्रोल से बातचीत करते हुए कहा कि राइट्स इश्यू का जोरदार सब्सक्रिब्शन इस बात का संकेत है कि सभी वर्गों के निवेशक कंपनी के भविष्य को लेकर आशावान है जिसको देखते हुए हमने निवेशकों को RIL के राइट्स इश्यू  में सब्सक्रिब्शन की सलाह दी थी। हमारी सलाह है कि इस शेयर में कम से कम 2 से 3 साल तक निवेशित बने रहें।


उन्होंने आगे कहा कि अगले कुछ सालों में टेलीकॉम और रिटेल बिजनेस कंपनी के कारोबार के ग्रोथ ड्राइवर साबित होंगे। जियोमार्ट प्लेटफॉर्म के जरिए ई-कॉर्मस में कंपनी का कदम रखना शेयरधारकों के लिए लंबी अवधि में वैल्यू क्रिएटर साबित होगा।


डिस्क्लेमर: नेटवर्क 18 मीडिया एंड इनवेस्टमेंट लिमिटेड पर इंडिपेंडेंट मीडिया ट्रस्ट का मालिकाना हक है। इसकी बेनफिशियरी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें