Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

रिलायंस में 25% हिस्सा खरीद सकती है सऊदी अरामको!

प्रकाशित Wed, 17, 2019 पर 13:21  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

रिलायंस ग्रुप को लेकर दो बड़ी खबरें आ रही हैं। पहली खबर ये है कि सऊदी अरामको रिलायंस के रिफाइनिंग और पेट्रोकेम कारोबार में हिस्सा ले सकती है और दूसरी खबर है कि खिलौनों का मशहूर ब्रांड हैमलीज जल्द ही रिलायंस रिटेल का हो सकता है।


दुनिया की सबसे बड़ी तेल उत्पादक कंपनी सऊदी अरामको रिलायंस इंडस्ट्रीज के रिफाइनिंग और पेट्रोकेमिकल कारोबार में 25 फीसदी हिस्सेदारी खरीद सकती है। हिस्सेदारी खरीद के लिए सउदी अरामको की रिलांयस इंड्स्ट्रीज से बातचीत चल रही है। अखबारों में छपी खबरों के मुताबिक 10 से 15 बिलियन डॉलर में सौदा हो सकता है। साइलेंट पीरियड होने के चलते रिलायंस इंडस्ट्रीज ने डील पर बयान देने से इंकार कर दिया है।


सऊदी अरामको आरआईएल के रिफाइनिंग, पेट्रोकेमिकल कारोबार में ये हिस्सा खरीद सकती है। अखबार में छपी खबर के मुताबिक ये सौदा 10-15 अरब डॉलर में हो सकता है। इस पर जून में दोनों कंपनियों के बीच करार होने की संभवाना है। आरआईएल के रिफाइनरी, पेटकैम का वैल्युएशन 55-60 अरब डॉलर है। आरआईएल का कुल मार्केट कैप 122 अरब डॉलर है। अखबार की खबर पर आरआईएल ने कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है।


गौरतलब है कि सऊदी अरामको ग्लोबल कारोबार बढ़ाना चाहती है वहीं, आरआईएल दूसरे कारोबार में डाइवर्सिफाई कर रही है। फरवरी में सऊदी प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने मुकेश अंबानी से मुलाकात की थी। दोनों की मुलाकात के बाद डील पर बातचीत शुरु हुई थी। गोल्डमैन सैक्स की निगरानी में डील पर बात जारी है।


बता दें कि सऊदी अरामको दुनिया की सबसे बड़ी तेल उत्पादक कंपनी है। ये सऊदी अरब की सरकारी कंपनी है। इसने 2018 में रोजाना 1.36 करोड़ बैरल तेल निकाला है। ये दुनिया की सबसे ज्यादा मुनाफा कमाने वाली कंपनी है। सऊदी अरामको ने पिछले साल 7.7 लाख करोड़ मुनाफा कमाया है। इसकी सालाना आय 25 लाख करोड़ रुपये है।


वहीं, रिलायंस भारत की सबसे बड़ी कंपनी है। ये भारत में सबसे ज्यादा मुनाफा कमाने वाली कंपनी है। रिलायंस देश की दूसरी सबसे बड़ी ऑयल रिफाइनिंग कंपनी है। कंपनी का रिटेल, टेलीकॉम, पेटकेम का मुख्य कारोबार है।


डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल डॉट कॉम रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है। नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है।