Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

Lockdown Effect: SBI Card का ऑफिस बंद, जरूरी कामकाज जारी

सेल्स गतिविधियों को चलाना मुश्किल होने की वजह से कंपनी ने अपने कस्टर एक्विजेशन प्रोसेस को रोक दिया है लेकिन remittance कारोबार सामान्य रुप से चालू है
अपडेटेड Apr 07, 2020 पर 11:30  |  स्रोत : Moneycontrol.com

भारत की दूसरी सबसे बड़ी क्रेडिट कार्ड जारी करने वाली कंपनी SBI Cards and Payment Services ने कोरोना वायरस  लॉकडाउन के चलते पूरे भारत में सभी कार्यलायों को 14 अप्रैल तक के लिए बंद कर दिया है। कंपनी ने यह सटडाउन केंद्र और राज्य सरकारों की एडवाजरी को ध्यान में रखते हुए किया है लेकिन इस अवधि में कंपनी का जरुरी कामकाज सामान्य तौर पर चलता रहेगा।


कंपनी ने प्रेस रिलीज में कहा है कि  उसका Business Continuity Plan (BCP) अमल है और उसके सभी क्रिटिकल प्रोसेस सामान्य रुप से चालू हैं। इसके लिए कंपनी के कर्मचारी अपने घर से काम कर रहे हैं।


कंपनी की तरफ से आगे कहा गया है पिछले वर्षों में कंपनी द्वारा Digital transformation पर किए गए निवेश का फायदा मिल रहा है और कंपनी का कोर कारोबार सुचारु रुप से चल रहा है। इस बंदी के आर्थिक प्रभाव का आकलन अभी संभव नहीं है। कंपनी के कार्यलायों को बंद रखने का ये फैसला कब तक लागू रहेगा ये इस बात पर निर्भर करेगा कि आगे अधिकारियों द्वारा किस तरह के निर्देश मिलते हैं। सेल्स गतिविधियों को चलाना मुश्किल होने की वजह से कंपनी ने अपने कस्टमर एक्विजेशन प्रोसेस को रोक दिया है लेकिन remittance कारोबार सामान्य रुप से चालू है।


SBI Cards की तरफ से आगे कहा गया है कि ग्राहकों द्वारा किए जाने वाले रीपेमेंट में गिरावट देखने को मिली है। हालांकि आरबीआई ( RBI) द्वारा घोषित  moratorium और इस सुविधा के लिए आवेदन करने वाले ग्राहकों की संख्या को ध्यान में रखते हुए इस पर नजर रखी जा रही है।


टेलीकॉलिंग और फील़्ड कलेक्शन के बंद होने की वजह से कंपनी के कलेक्शन और रिकवरी गतिविधियों पर प्रतिकूल असर पड़ा है। हालांकि work from home डायलर सेटअप और डिजिटल पेमेंट चैनल आंशिक रुप से चालू हो गए है लेकिन कलेक्शन और रिकवरी में आई बाधा की वजह से कंपनी के पोर्टफोलियों क्वालिटी पर खराब असर दिखने की उम्मीद है।


SBI Card ने अपने हाई रिस्क कस्टमरों के लिए पहले ही कुछ खास पोर्टफोलियो मैनजमेंट एक्शन लागू किए है और आगे भी अपने ग्राहकों को रीस्ट्रक्चरिंग और सेटलमेंट जैसे ऑफर दे सकती है।


बता दें कि आरबीआई ने कोविड-19 पैकेज की घोषणा की है जिसमें कर्ज लेने वालों के लिए लोन किस्तों की भुगतान पर 3 महीने का moratorium शामिल है।


SBI Card ने  कहा है कि उसके बोर्ड ने moratorium पॉलिसी को मंजूरी दे दी है और इसको लागू किया जा रहा है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की इस सब्सिडरी ने आगे कहा कि बॉरोइंग एक्टिविटी सहित उसका ट्रेजरी ऑपरेशन सामान्य तौर पर काम कर रहा है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।