Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

उम्मीद के मुताबिक रहे दूसरी तिमाही के नतीजे, आगे और बढ़ेगा कारोबारः Dabur

कुल मिलाकर नतीजे उम्मीद के मुताबिक रहे। उन्होंने कहा कि आगे भी मार्जिन बेहतर रहने की उम्मीद है।
अपडेटेड Nov 06, 2019 पर 16:48  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नो योर कंपनी में आज रडार पर है Dabur है। डाबर ने अपने दूसरी तिमाही के नतीजे घोषित किये हैं। सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में Dabur का मुनाफा 7 फीसदी बढ़कर 403 करोड़ रुपये रहा है जबकि वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 376.6 करोड़ रुपये रहा था।


सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में Dabur की आय 4.1 फीसदी बढ़कर 2,212 करोड़ रुपये रही थी। वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में कंपनी की आय 2,125 करोड़ रुपये रही थी।


सालाना आधार पर Dabur का एबिटडा 450.9 करोड़ रुपये से बढ़कर 489.5 करोड़ रुपये रहा है। वहीं, एबिटडा मार्जिन 21.2 फीसदी से बढ़कर 22.1 फीसदी रहा है।


डाबर के CEO मोहित मल्होत्रा ने कंपनी के नतीजों के बारे में सीएनबीसी-आवाज़ से बातचीत करते हुए कहा कि कंपनी की ग्रोथ अपेक्षानुसार रही है। कुल मिलाकर नतीजे उम्मीद के मुताबिक रहे। उन्होंने कहा कि आगे भी मार्जिन बेहतर रहने की उम्मीद है। वहीं मांग सुधरने से वॉल्यूम ग्रोथ बेहतर होने की उम्मीद है।


मोहित ने आगे कहा कि दूसरी तिमाही में 40 करोड़ रुपये की प्रोविजनिंग की है जबकि कंपनी ने 60 प्रतिशत निवेश की प्रोविजनिंग की है। कंपनी बैंक, एएए रेटेड प्रोडक्ट में ही निवेश करती है और कंपनी का डीएचएफएल, रिलायंस होम के अलावा एक्सपोजर नहीं है। कंपनी ने एफडी बॉन्ड में निवेश किया है।


उन्होंने स्पष्ट किया कि कंपनी के प्रोडक्ट के डिमांड की स्थिति चुनौतीपूर्ण बनी हुई है। टूथपेस्ट में कम्पटिशन बढ़ा है। पतंजलि के मामले में थोड़ी राहत मिली है। इसलिए निवेशकों को पतंजलि से घबराने की जरूरत नहीं है और डाबर में भरोसा कायम रखना चाहिए।