Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

भारत में किए निवेश से निकलने की जल्दबाजी नहीं: सॉफ्टबैंक

सॉफ्टबैंक ने Masayoshi Son की अगुवाई में, हाल ही में 2-4 बिवियन डॉलर का निवेश किया है
अपडेटेड Jul 23, 2019 पर 11:58  |  स्रोत : Moneycontrol.com

जापान की बड़ी टेलीकॉम और इंटरनेट कंपनियों में से एक सॉफ्टबैंक ने मायायोशी सोन की अगुवाई में भारत में कई स्टार्टअप और आईटी सेक्टर में बड़ा निवेश किया है। कंपनी का मकसद भारत में निवेश की पहली प्राथमिकता है। लिहाजा अभी भारतीय फर्मों से बाहर जाने की कोई जल्दबाजी नहीं है।


सॉफ्टबैंक विजन फंड में मैनेजिंग पार्टनर मुनीश वर्मा ने एक इंटरव्यू में कहा कि, उबर, गार्डेंट, और स्लैक जैसी कुछ कंपनी विश्व स्तर पर हैं जो पब्लिक (लिस्टिंग) हो गई हैं। अगले कुछ सालों में आप और भी कंपनियों को पब्लिक होते देखेंगे। जिस तरह से भारत में ग्रो हो रहा है, वैसी ही हमारी भारत के लिए योजनाएं हैं।


सॉफ्टबैंक ने हाल ही में कहा था कि वो भारत में 2-4 बिलियन डॉलर का निवेश करने की योजना बना रहा है। मुनीश वर्मा के मुताबिक, भारत में मेगा फंड की फिलॉस्पी दुनिया के बाकी हिस्सों से अलग नहीं है।


वर्मा ने कहा कि कम्प्यूटेशनल की सुविधा से डाटा को कैप्चर और स्टोर करना आसान होगा। हम किसी ऐसी कंपनी की तलाश कर रहे हैं जो इन डाटा को बेहतर तरीके से इस्तेमाल कर सकें। इनमें कोई कंपनी या कंज्यूमर भी हो सकता है।


सॉफ्टबैंक कॉर्पोरेशन जापान की बड़ी टेलिकॉम और इंटरनेट कंपनियों में से एक है, जो ब्रॉडबैंड, फिक्स्ड लाइन टेलिकॉम, ई-कॉमर्स, वित्त, मीडिया और मार्केटिंग के क्षेत्र में अपनी सेवाएं दे रही है। कंपनी के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी मसायोशी सोन जापान के सर्वाधिक धनी व्यक्तियों में से एक हैं।