Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

2021 तक रिटेल लोन की हिस्सेदारी 50% करने का लक्ष्यः Karnataka Bank

Karnataka Bank के MD और CEO एमएस महाबलेश्वरा ने कहा कि बैंक ने रिटेल पर फोकस बढ़ाया है।
अपडेटेड Oct 16, 2019 पर 16:15  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

KNOW YOUR COMPANY  में आज रडार पर Karnataka Bank है। कर्नाटका बैंक ने अपने नतीजे घोषित कर दिये हैं।


वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में बैंक का मुनाफा पिछले साल की दूसरी तिमाही के 112 करोड़ रुपये से घटकर 106 करोड़ रुपये रहा है। वहीं ब्याज आय पिछले साल की दूसरी तिमाही के 1453 करोड़ रुपये से बढ़कर 1630 करोड़ रुपये रही है।


सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में कर्नाटका बैंक की प्रोविजनिंग 193 करोड़ रुपये से बढ़कर 262 करोड़ रुपये रही है। तिमाही दर तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में कर्नाटका बैंक का नेट एनपीए 3.33 फीसदी से बढ़कर 3.48 फीसदी और ग्रॉस एनपीए 4.55 फीसदी से बढ़कर 4.78 फीसदी रहा है।


बैंक के कारोबार और नतीजों पर बातचीत करते हुए Karnataka Bank के MD और CEO एमएस महाबलेश्वरा ने कहा कि बैंक ने रिटेल पर फोकस बढ़ाया है। बैकं ने ग्रोथ के लिए रिटेल लोन पर फोकस बढ़ाया है। इसके अलावा ग्रोथ के लिए एग्रीकल्चर पर भी फोकस किया गया है।


एमएस महाबलेश्वरा ने आगे कहा कि बैंक का लक्ष्य है कि 2021 तक रिटेल लोन की हिस्सेदारी 50 प्रतिशत तक हो जाये।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।