Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

CCD का कॉफी प्लांटेशन 1500 करोड़ रुपए में खरीदेगा टाटा ग्रुप, वीजी सिदार्थ का लोन चुकाएगा परिवार

Cafe Cofee Day के फाउंडर वीजी सिदार्थ हैं जिनका शव पिछले साल नेत्रावती नदी से मिला था
अपडेटेड Sep 25, 2020 पर 14:27  |  स्रोत : Moneycontrol.com

टाटा ग्रुप कैफे कॉफी डे (Cafe Cofee Day या CCD) का 12,000 हेक्टेयर कॉपी प्लांटेशन खरीद सकता है। कैफे कॉफी डे के संस्थापक वीजी सिदार्थ थे जिन्होंने पिछले साल आत्महत्या कर ली थी। अभी तक जितनी जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक, टाटा ग्रुप की कंपनी टाटा कॉपी (Tata Cofee) 1200-1500 करोड़ रुपए में यह डील कर सकती है।


वीजी सिदार्थ की मौत के बाद उनकी पत्नी मालविका हेगड़े इस कारोबार को संभाल रही हैं। ग्रुप के कारोबार के साथ ही मालविका हेगड़े कॉफी प्लांटेशन सहित पर्सनल एसेट्स संभाल रही हैं। माना जाता है कि यह एशिया का दूसरा सबसे बड़ा कॉफी प्लांटेशन है।


वीजी सिदार्थ की मौत कैसे हुई इसकी गुत्थी अभी उलझी हुई है। सिदार्थ 29 जुलाई 2019 को नेत्रावती नदी के किनारे गए थे। वहां पहुंचने के बाद उन्होंने अपने ड्राइवर को घर जाने के लिए कह दिया। नेत्रावती नदी से ही वह गायब हो गए। बाद में पुलिस ने उनका शव नदी से बरामद किया। ऐसे में माना जाता है कि उन्होंने नदी में छलांग लगा दी थी। हालांकि अभी तक जांच में ऐसी कोई बात सामने नहीं आई है जिससे यह पता चले कि सिदार्थ पर किसी तरह का दबाव था।


वीजी सिदार्थ ने अपने कुछ पर्सनल एसेट्स गिरवी रखकर और दूसरे तरीकों से HSBC सहित कुछ दूसरे बैंकों से लोन लिया था। उनका परिवार एसेट्स बेचकर सिदार्थ का लोन चुकाएगा.


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।