Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

जून तिमाही में इन 15 शेयरों में विदेशी निवेशकों ने बढ़ाई हिस्सेदारी, जानिए आप क्या करें?

ब्रोकरेज फर्म का कहना है कि विदेशी निवेशकों ने सबसे ज्यादा हिस्सेदारी डायवर्सिफाइड फाइनेंशियल्स, इंश्योरेंस, ऑयल, गैस एंड टेलीकम्युनिकेशंस सर्विसेज में शेयर खरीदे हैं
अपडेटेड Aug 23, 2019 पर 08:34  |  स्रोत : Moneycontrol.com

जून 2019 तिमाही में फॉरेन इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स (FII) ने बिकवाली से ज्यादा खरीदारी की है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के आंकड़ों के मुताबिक, अप्रैल से जून तिमाही में FII ने 10,000 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे हैं। घरेलू संस्थागत निवेशकों (DII) ने भी जून तिमाही में बिकवाली के मुकाबले खरीदारी ज्यादा की है। इस दौरान DII ने कुल 4700 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे हैं।


कोटक इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज ने अपने एक नोट में कहा है, जून 2019 तिमाही में विदेशी निवेशकों ने 31,700 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे हैं। इनमें अमेरिकन डिपॉजिटरी रिसिट्स और ग्लोबल डिपॉजिटरी रिसिट्स शामिल हैं। BSE 200 शेयरों में इनकी हिस्सेदारी 444 अरब डॉलर हो गई है जो मार्च तिमाही में 433 अरब डॉलर थी।


ब्रोकरेज फर्म का कहना है कि विदेशी निवेशकों ने सबसे ज्यादा हिस्सेदारी डायवर्सिफाइड फाइनेंशियल्स, इंश्योरेंस, ऑयल, गैस एंड टेलीकम्युनिकेशंस सर्विसेज में शेयर खरीदे हैं।   


जून तिमाही में BSE 200 में FPI की हिस्सेदारी 24.1 फीसदी और DII की हिस्सेदारी 13.5 फीसदी रही है। पिछले तीन महीनों में FPI ने 30 कंपनियों में हिस्सेदारी बढ़ाई है। इनमें 15 सबसे टॉप कंपनियां Gruh Finance, Mahindra Logistics, Godrej Properties, Shriram Transport, SBI Life Insurance, ICICI Lombard, Reliance Nippon Life, Bharti Airtel, Apollo Tyres और Aster DM Healthcare है।