Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

WhatsApp में पहला मैसेज किसने भेजा, लग सकता है पता

IIT मद्रास के प्रोफेसर ने WhatsApp में पहला मैसेज भेजने वाले यूजर का पता लगाने का दावा किया है।
अपडेटेड Aug 10, 2019 पर 14:18  |  स्रोत : Moneycontrol.com

आपके मोबाइल में कई ऐसे मैसेज होते हैं, जो फेक(फर्जी) होते हैं, लेकिन कई दिनों तक चलते रहते हैं। इसी तरह कई बार कहीं की भी गलत जानकारी को लोग सत्य मानकर शेयर करते रहते हैं। बाद में पता चलता है कि वो जानकारी अफवाह या झूठी थी। ऐसे में सबसे बड़ा सवाल ये उठता है कि आखिर किसने भेजा ?  WhatsApp जैसी दुनिया में पता करना मुश्किल हो जाता है कि आखिर इस मैसेज की शुरुआत करने वाला कौन है। एक मोबाइल से दूसरे मोबाइल में मैसेज पहुंचकर जल्द ही वायरल हो जाते हैं। गलत मैसेज वायरल होने पर सरकार भी नाराजगी जता चुकी है। अब अगर आपके WhatsApp में कोई मैसेज आता है, तो आप पता लगा सकते हैं कि इस मैसेज की शुरुआत किसने की है।


 दरअसल IIT मद्रास के एक प्रोफेसर वी कामकोटि ने एक मामले में मद्रास हाईकोर्ट में फाइल किए गए केस में WhatsApp मोबाइल के मैसेज को किसने पहले भेजा, इस पर एक रिपोर्ट जमा की है। इस रिपोर्ट के मुताबिक, WhatsApp एप अपने एनक्रिप्टेड प्लेटफॉर्म पर पहले मैसेज भेजने वाले की जानकारी के साथ कंटेंट को इंबेड करके मैसेज की शुरुआत करने वाले का पता लगया जा सकता है।


कामकोटि, Prime Minister Office (PMO) में नेशनल सिक्योरिटी एडवायजरी बोर्ड के मेंबर भी हैं।


हालांकि प्रोफेसर ने ये भी साफ तौर कर कहा है कि अगर किसी मैसेज को दोबारा टाइप करें, ऑडियो, वीडियो जोड़ें या उसमें कुछ भी करें तो ये मैसेज भेजने वाला शुरुआती यूजर बन जाएगा।


फिलहाल प्रोफेसर की रिपोर्ट पर अभी तक टेस्ट (परीक्षण) नहीं हुआ है, लेकिन केस की अगली सुनवाई के बाद प्रोफेसर के दावे पर मुहर लग सकती है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (@moneycontrolhindi) और Twitter (@MoneycontrolH) पर फॉलो करें.