Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

बिल्डिंग सोल्युशंस में पूरी क्षमता से हो रहा काम, और क्षमता विस्तार पर फोकसः HIL

कंपनी ने तेलंगाना में CPVC, UPVC, SWR Pipes के उत्पादन शुरू करने की घोषणा की है।
अपडेटेड Nov 19, 2019 पर 15:59  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नो योर कंपनी में आज रडार पर HIL है। यह पहले हैदराबाद इंडस्ट्रीज लिमिटेड के नाम से जानी जाती थी। यह एक सी के बिड़ला ग्रुप की कंपनी है। HIL फाइबर सीमेंट रूफिंग का उत्पादन और बिक्री करने वाली विश्व की सबसे बड़ी कंपनी है। यह बिल्डिंग सॉल्युशंस मुहैया कराती है। कंपनी ने तेलंगाना में CPVC, UPVC, SWR Pipes के उत्पादन शुरू करने की घोषणा की है।


सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में HIL का मुनाफा 164 प्रतिशत बढ़कर 31.94 करोड़ रुपये रहा जबकि वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में HIL का मुनाफा 12.09 करोड़ रुपये रहा था।


सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में HIL की आय 41.9 प्रतिशत बढ़कर 586 करोड़ रुपये रही जबकि वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में HIL की आय 413 करोड़ रुपये रही थी।


कंपनी के नतीजों और कारोबार पर सीएनबीसी-आवाज़ से बातचीत करते हुए कंपनी के MD और CEO धीरूप चौधरी ने कहा कि कंपनी तीन प्रकार के पाईप बनाती है इसलिए इसको सरकार के जल से नल वाली स्कीम का फायदा मिलेगा।


नतीजों पर उन्होंने कहा कि कंपनी मार्केट शेयर या टॉपलाइन ग्रोथ पर न जाकर हमेशा बॉटम लाइन पर फोकस करती है।


चौधरी ने आगे कहा कि सरकार ने टैक्स कटौती करके इंडस्ट्री के लिए अच्छा कदम उठाया है। इसकी वजह से कंपनी को टैक्स में अवश्य फायदा होगा।


एयूएम कैपिटल के राजेश अग्रवाल ने HIL पर 1400 के लक्ष्य के लिए होल्ड करने की सलाह दी है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।