HCL Technologies का तीसरी तिमाही में 13% घटा मुनाफा, 10 रुपये प्रति शेयर के डिविडेंड का ऐलान

HCL Technologies का तीसरी तिमाही में 13% घटा मुनाफा, 10 रुपये प्रति शेयर के डिविडेंड का ऐलान

HCL टेक्नोलॉजीज की ऑपरेशन से होने वाली आमदनी तीसरी तिमाही में 15% बढ़कर 22,331 करोड़ रुपये रहा

अपडेटेड Jan 14, 2022 पर 8:14 PM | स्रोत : Moneycontrol.comHCL टेक्नोलॉजीज के शेयर शुक्रवार को 0.32% की गिरावट के साथ 1,330 रुपये पर बंद हुए

HCL टेक्नोलॉजीज (HCL Technologies) का मुनाफा मौजूदा वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 13 पर्सेंट घट गया है। कंपनी ने शुक्रवार को वित्त वर्ष 2022 की अक्टूबर-दिसंबर 2021 तिमाही के वित्तीय नतीजे जारी किए। HCL टेक्नोलॉजीज ने बताया कि दिसंबर तिमाही में उसका मुनाफा 3,442 करोड़ रुपये रहा, जो पिछले साल की इसी वित्त वर्ष में हुए 3,969 करोड़ रुपये के मुनाफे से 13 फीसदी कम है।

HCL टेक्नोलॉजीज ने एक बयान में कहा, "पिछले वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही के मुनाफे में 438 करोड़ रुपये की वह धनराशि भी शामिल थी, जिसे टैक्स प्रोविजन के रूप में अलग किया गया था, लेकिन फिर टैक्स डिडक्शन को कैलकुलेट करने के तरीके में बदलाव के बाद यह राशि वापस आ गई थी। इसे निकाल दें तो, मौजूदा वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में मुनाफा सालाना आधार पर 2.9 फीसदी कम है।"

वहीं तिमाही आधार पर अगर देखें तो HCL टेक्नोलॉजीज का मुनाफा 5 फीसदी बढ़ा है। सितंबर तिमाही में कंपनी का मुनाफा 3,259 करोड़ रुपये रहा था।

Rakesh Jhunjhunwala जैसा बनाना चाहते हैं अपना पोर्टफोलियो? बस निवेश के इस आसान सूत्र का करें इस्तेमाल

नोएडा मुख्यालय वाली HCL टेक्नोलॉजीज की ऑपरेशन से होने वाली आमदनी तीसरी तिमाही में 15 पर्सेंट बढ़कर 22,331 करोड़ रुपये रहा, जो पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में 19,302 करोड़ रुपये था।

10 रुपये के अंतरिम डिविडेंट का ऐलान

HCL टेक्नोलॉजीज के बोर्ड ने प्रति इक्विटी शेयर पर 10 रुपये का अंतरिम डिविडेंड देने का ऐलान किया है। शुक्रवार को HCL के शेयर 0.32% की गिरावट के साथ 1,330 रुपये पर बंद हुए। पिछले एक साल में HCL के शेयरों ने अपने निवेशकों को 29.97 पर्सेंट का रिटर्न दिया है। वहीं इस दौरान निफ्टी IT इंडेक्स 24.95 पर्सेंट बढ़ा है।

315 करोड़ रुपये में हंगरी की कंपनी का अधिग्रहण करेगी HCL

HCL टेक्नोलॉजीज (HCL Technologies) ने शुक्रवार को कहा कि वह करीब 315 करोड़ रुपये में हंगरी की कंपनी स्टार्सकेमा का अधिग्रहण करेगी। कंपनी ने शेयर बाजारों को दी गई सूचना में बताया कि उसने हंगरी स्थित स्टार्सकेमा का अधिग्रहण करने के लिए एक करार पर हस्ताक्षर किए हैं। यह कंपनी डेटा इंजीनियरिंग सेवाएं मुहैया कराती है। इस अधिग्रहण से HCL टेक्नोलॉजीज की क्षमता डिजिटल इंजीनियरिंग में बढ़ेगी और कंपनी पूर्वी यूरोपीय बाजार में अपनी मौजूदगी बढ़ाने में मदद मिलेगी।

MoneyControl News

MoneyControl News

First Published: Jan 14, 2022 8:14 PM