Delhi Covid-19 Scheme: पीड़ित परिवार को 50,000 रुपए की आर्थिक मदद, हर महीने पेंशन, दिल्ली सरकार ने शुरू की योजना

COVID-19 के कारण एक सदस्य को खोने वाले हर एक परिवार को 50,000 रुपए की आर्थिक मदद दी जाएगी
अपडेटेड Jun 23, 2021 पर 12:40  |  स्रोत : Moneycontrol.com

दिल्ली सरकार ने मंगलवार को COVID-19 के कारण अपने सदस्य को खोने वाले परिवारों को वित्तीय सहायता देने के लिए एक योजना अधिसूचित की। समाज कल्याण विभाग की नोटिफिकेशन के अनुसार, मुख्यमंत्री COVID-19 परिवार आर्थिक सहायता योजना के तहत, COVID-19 के कारण एक सदस्य को खोने वाले हर एक परिवार को 50,000 रुपए की आर्थिक मदद दी जाएगी। इसके अलावा, महामारी के कारण एकमात्र कमाने वाले को खो देने वाले परिवारों को हर महीने 2,500 रुपए पेंशन भी दी जाएगी।


इस योजना की घोषणा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 18 मई को की थी। उन्होंने माता-पिता में से किसी एक या दोनों को खोने वाले बच्चों को मुफ्त शिक्षा और वित्तीय सहायता देने का भी वादा किया था।


समाज कल्याण विभाग की अधिसूचना में लिखा है, "सरकार पीड़ित परिवार के किसी एक सदस्य को सिविल डिफेंस वालंटियर बनाने पर भी विचार कर रही है। इसके अलावा राज्य मौजूदा नीति के अनुसार आश्रित बच्चों के स्वास्थ्य और शिक्षा की जरूरतों को भी पूरा करेगा।"


योजना के तहत अनुग्रह राशि के लिए आवेदन करने के लिए कोई उम्र का कोई मानदंड नहीं है। नोटिफिकेशन में कहा, "मृतक और आश्रित दोनों दिल्ली से होने चाहिए… उनकी मौत COVID-19 से ही हुई है ये भी प्रमाणित किया जाना चाहिए।"


एक डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस में केजरीवाल ने 18 मई को कहा था, "हर परिवार, जिसमें कोरोनावायरस के कारण मृत्यु हुई है, उन्हें 50,000 रुपए की अनुग्रह राशि प्रदान की जाएगी।"


उन्होंने कहा था, "कई परिवार ऐसे भी हैं, जहां कमाने वाले सदस्य की COVID-19 के कारण मौत हो गई। ऐसे परिवारों को 50,000 रुपए की अनुग्रह राशि के अलावा 2,500 रुपए की मासिक पेंशन भी दी जाएगी।"


उन्होंने कहा था कि जिन बच्चों ने अपने माता-पिता या दोनों में से किसी एक को COVID-19 में खो दिया है, उन्हें भी 25 साल की उम्र तक हर महीने ₹ 2,500 प्रदान किए जाएंगे। दिल्ली सरकार उन्हें भी मुफ्त शिक्षा देगी।


दिल्ली COVID-19 अपडेट


दिल्ली में पिछले 24 घंटों में 134 नए Covid​​​-19 केस आए, 467 ठीक हुए और आठ मौतें हुईं। सोमवार की तुलना में मामलों में मामूली बढ़ोतरी हुई जब शहर में 89 नए कोरोनोवायरस मामले आए थे। शहर ने सोमवार को अपना सबसे कम पॉजिटिविटी रेट 0.16 प्रतिशत दर्ज किया था।


राष्ट्रीय राजधानी में कुल मामलों की संख्या 14,32,778 हो गई है, जिसमें 1,918 एक्टिव केस शामिल हैं। दिल्ली ने इस साल 10 मार्च को 1900 एक्टिव केस दर्ज किए थे और आज के एक्टिव केस की गिनती तब से सबसे कम है। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के अनुसार, मंगलवार को पॉजिटिविटी रेट 0.2 प्रतिशत था।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।