मुंबई बम धमाकों के दोषी यूसुफ मेमन की जेल में मौत

मौत के कारणों का अभी पता लगाया जाना बाकी है, पोस्टमॉर्टम के लिए मेमन का शव धुले भेजा जाएगा
अपडेटेड Jun 27, 2020 पर 08:58  |  स्रोत : Moneycontrol.com

साल1993 में मुंबई में हुए सिलसिलेवार बम विस्फोटों के मामले में दोषी और भगोड़ा आरोपी टाइगर मेमन के भाई यूसुफ मेमन (Yusuf Memon) की महाराष्ट्र के नासिक जिले में स्थित नासिक रोड जेल में शुक्रवार को मौत हो गई। जेल के एक अधिकारी ने बताया कि मौत के कारणों का अभी पता लगाया जाना बाकी है और उसका शव पोस्टमॉर्टम के लिए धुले भेजा जाएगा। नासिक के पुलिस आयुक्त विश्वास नांग्रे पाटिल ने यूसुफ मेमन की मौत की पुष्टि की।


टाइगर मेमन और भगोड़ा गैंगस्टर दाऊद इब्राहीम को जहां मुंबई विस्फोटों का मास्टरमाइंड बताया जाता है, वहीं यूसुफ पर मुंबई में अल हुसैनी बिल्डिंग स्थित अपने फ्लैट और गैराज को आतंकी गतिविधियों के लिए उपलब्ध कराने का आरोप था। विशेष टाडा अदालत ने उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। मामले में गिरफ्तार एक और मेमन बंधु याकूब मेमन को 2015 में फांसी दे दी गई थी। मुंबई में 12 मार्च 1993 को हुए बम विस्फोटों में कम से कम 250 लोग मारे गए थे और सैकड़ों अन्य घायल हुए थे।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।