Mucormycosis: मध्य प्रदेश में सामने आए 50 केस, CM शिवराज ने दिए स्पेशल ट्रीटमेंट वार्ड के निर्देश

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ये भी कहा कि आर्थिक रूप से कमजोर मरीजों का काली फफूंद (Black Fungus) का मुफ्त इलाज होगा
अपडेटेड May 12, 2021 पर 18:34  |  स्रोत : Moneycontrol.com

मध्य प्रदेश (MP) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने बुधवार को कहा कि Covid-19 मरीजों के बीच काली फफूंद (Black Fungus), जिसे म्यूकरमायकोसिस (Mucormycosis) भी कहा जाता है, के 50 मामले सामने आए हैं। चौहान ने ये बयान भोपाल में एक हाई लेवल बैठक की अध्यक्षता करते हुए किया, जिसमें कोरोना मरीजों के सामने आ रहीं ताजा चुनौतियों पर चर्चा हुई।


मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार ब्लैक फंगस के लिए एक विस्तृत प्रोटोकॉल बनाएगी और उसके अनुसार ही इलाज किया जाएगा। आर्थिक रूप से कमजोर मरीजों को मुफ्त इलाज मुहैया कराया जाएगा।


स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार, म्यूकरमायकोसिस के लक्षणों में सिरदर्द, बुखार, खांसी, आंखों के नीचे दर्द, नाक बहना, मतली या उल्टी होना, कम दिखाई देना, छाती में दर्द, सांस लेने में तकलीफ शामिल हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे लक्षणों दिखने पर मरीजों को तुरंत इलाज के लिए आगे आना चाहिए।


फंगल इनफेक्शन पर बोलते हुए, राज्य के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विस्वाश कैलाश सारंग ने कहा, "हम हाई अलर्ट पर हैं।" पहले चरण में, हम गांधी मेडिकल कॉलेज, भोपाल और नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज, जबलपुर में स्पेशल ट्रीटमेंट यूनिट्स स्थापित करेंगे। इन विशेष वार्डों में प्रत्येक में दस बेड की क्षमता होगी।


मंत्री ने भोपाल में सरकार द्वारा संचालित हमीदिया अस्पताल में वरिष्ठ डॉक्टरों और अधिकारियों के साथ एक बैठक की, जिसमें डॉ. मनोज जैन और डॉक्टरों की एक टीम ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए अमेरिका में अपने समकक्षों के साथ बातचीत की ताकि संक्रमण के प्रसार की जांच के लिए कदम उठाए जा सकें।


भोपाल के अलावा, ब्लैक फंगस के मामले इंदौर और जबलपुर में भी सामने आए हैं। शरुआती चिकित्सा जांच के अनुसार, Covid-19 के इलाज के दौरान दी जाने वाले स्टेरॉयड की हाई डोज को संक्रमण के कारण के रूप में देखा जा रहा है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।